केमिकल अपशिष्ट से भूमिगत जल दूषित होने की आशंका

औद्योगिक क्षेत्र की कतिपय कंपनियों से निकलने वाले केमिकल युक्त पानी से लोग परेशान हैं। इससे भूमिगत भूमिगत जल दूषित होने की आशंका है। लोगों का कहना है कि प्रशासन को जानकारी होने के बाद भी कार्रवाई नहीं की जाती। जनप्रतिनिधि भी इस मामले को नहीं उठाते। केमिकल युक्त पानी नालियों से होते हुए बड़े नाले के रुप में ब्राह्मण पिपला से बहता है ।

By: Rahul sharma

Updated: 24 Sep 2021, 11:45 AM IST

छिन्दवाड़ा/पारडसिंगा. औद्योगिक क्षेत्र की कतिपय कंपनियों से निकलने वाले केमिकल युक्त पानी से लोग परेशान हैं। इससे भूमिगत जल दूषित होने की आशंका है। लोगों का कहना है कि प्रशासन को जानकारी होने के बाद भी कार्रवाई नहीं की जाती। जनप्रतिनिधि भी इस मामले को नहीं उठाते। केमिकल युक्त पानी नालियों से होते हुए बड़े नाले के रुप में ब्राह्मण पिपला से बहता है । इसके सम्पर्क में आने से खुजली हो जाती है। लोहे के सामान में समय से पहले ही जंग लग जाती है। प्रदूषण कंट्रोल बोर्ड भी इस ओर ध्यान नहीं दे रहा। ग्राम पंचायत खैरी तायगांव के वार्ड 2 में सडक़ जर्जर हो गई है। राहगीरों एवं बैल गाडिय़ों को परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है । समस्या को लेकर वार्ड 2 के लोगों ने सचिव को मरम्मत के लिए ज्ञापन सौंपा । ज्ञापन में सडक़ किनारे से झाडिय़ां साफ करने व सीमेंटीकरण की मांग की। ज्ञापन सौंपते समय शांतराम कोहले ,मुरलीधर चापेकर ,प्रकाश चौधरी सोमेश्वर कहाते ,अशोक कहाते उपस्थित थे । सचिव ने बताया कार्य जल्द से जल्द शुरू किया जाएगा।

Rahul sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned