गर्भवती महिलाओं की नहीं हो रही जांच

गर्भवती महिलाओं की नहीं हो रही जांच

Prem Dehariya | Publish: Jun, 14 2018 05:54:28 PM (IST) Chhindwara, Madhya Pradesh, India

प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र भाजीपानी में महिला चिकित्सक की अनुपस्थिति के कारण महिला मरीजों को परेशानी हो रही है।

परासिया. प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र भाजीपानी में महिला चिकित्सक की अनुपस्थिति के कारण महिला मरीजों को परेशानी हो रही है। शासन द्वारा गर्भवती एवं धात्री महिलाओं की देखरेख तथा नियमित जांच के लिए मंगलवार तथा शुक्रवार का दिन तय किया गया है इस दिन क्षेत्र की महिलाओं की जांच कर उपचार किया जाता है। प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र भाजीपानी में इकलेहरा, चरईकलां, भाजीपानी, भमोड़ी, जाटाछापर सहित अन्य ग्राम आते है यहां पर अन्य स्वास्थ्य सुविधा नहीं होने के कारण लोग स्वास्थ्य केन्द्र के भरोसे है। यहां पदस्थ महिला चिकित्सक की डियूटी अधिकांश समय बाहर लगाई जाती है जिसके कारण महिलाओ को चिकित्सा नहीं मिल पा रही है। मंगलवार को बड़ी संख्या में महिलाएं अस्पताल पहुंची लेकिन यहां महिला चिकित्सक नहीं थी बताया गया कि उनकी नाइट ड्यूटी परासिया अस्पताल में थी इसलिए वह रेस्ट पर है। गौरतलब है कि शासन द्वारा गर्भवती एवं धात्री महिलाओं की देखरेख तथा नियमित जांच के लिए मंगलवार तथा शुक्रवार का दिन तय किया गया है इस दिन क्षेत्र की महिलाओं की जांच कर उपचार किया जाता है। प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र भाजीपानी में इकलेहरा, चरईकलां, भाजीपानी, भमोड़ी, जाटाछापर सहित अन्य ग्राम आते है यहां पर अन्य स्वास्थ्य सुविधा नहीं होने के कारण लोग स्वास्थ्य केन्द्र के भरोसे है। यहां पदस्थ महिला चिकित्सक की डियूटी अधिकांश समय बाहर लगाई जाती है जिसके कारण महिलाओ को चिकित्सा नहीं मिल पा रही है। कमला बाई ने बताया कि यहां पदस्थ चिकित्सक कीे बाहर डियूटी लगा दी जाती है जिसका खामियाजा मरीजों को भुगतना पड़ता है। खासकर गर्भवती महिलाओं को परेशानियों का सामना करना पडता है। इस संबध में भमोडी सरपंच सरस्वती परतेती ने कहा कि भाजीपानी अस्पताल में डिलेवरी भी होती है इसलिए यहां महिला चिकित्सक आवश्यक है। सप्ताह में कम से कम दो दिन मंगलवार और शुक्रवार को महिलाओं की जांच के लिए महिला चिकित्सक का रहना जरूरी है। पंचायत सदस्य सुनीता मालवी एवं अनिता डेहरिया ने कहा यदि सुविधा नहीं बनती तो आंदोलन किया जाएगा। पंचायत सदस्य सुनीता मालवी, अनिता डेहरिया, रामवती बावरिया ने कहा कि यदि स्वास्थ विभाग अपने रवैये में सुधार नहीं करता है और मंगलवार-शुक्रवार को महिला चिकित्सक की उपस्थिति सुनिश्चित नहीं करता है तो क्षेत्र की महिलाओं के साथ आंदोलन किया जाएगा।

MP/CG लाइव टीवी

Ad Block is Banned