गोंगपा के वोट तय करेंगे परिणाम

गोंगपा के वोट तय करेंगे परिणाम

Rajendra Sharma | Publish: Sep, 06 2018 11:53:47 PM (IST) Chhindwara, Madhya Pradesh, India

कांग्रेस और भाजपा में एक दर्जन से ज्यादा टिकट के दावेदार

मनोहर सोनी/संदीप चवरे
छिंदवाड़ा
. आदिवासी बहुल विधानसभा अमरवाड़ा में तीसरी शक्ति गोंडवाना गणतंत्र पार्टी के वोट ही चुनाव परिणाम की दिशा तय करते रहे हैं तो सामान्य सीट चौरई में जातिगत समीकरण और ज्वलंत मुद्दों के आधार ही जीत सुनिश्चित होती रही हैं। इस विधानसभा चुनाव में भी यही फैक्टर काम करेंगे। अमरवाड़ा में इस समय कांग्रेस से विधायक कमलेश शाह हैं तो चौरई में भाजपा के पं. रमेश दुबे काबिज हैं। टिकट के लिए दोनों विधायक प्रबल दावेदार हैं तो उनके साथ क्षेत्रीय नेताओं की चुनाव लडऩे की महत्वाकांक्षा जन्म ले रही है। अमरवाड़ा में गोंडवाना से पूर्व विधायक मनमोहन शाह बट्टी का नाम सबसे आगे हैं। आप, सपा एवं निर्दलीय भी तैयारी कर रहे हैं।

अमरवाड़ा : स्वास्थ्य सुविधा बदहाल

जि ले की अनुसूचित जनजाति आरक्षित सीट अमरवाड़ा में आदिवासी समाज गोंड, भारिया और परधान जैसी उपजातियों में बंटा हुआ है। इनमें गोंड सबसे ज्यादा हैं। यहीं निर्णायक वोटर होते हैं। इस विधानसभा में सबसे बड़ी समस्या स्वास्थ्य सुविधाओं का बदहाल होना है। इसके बाद पलायन, बेरोजगारी जैसे मुद्दे छाए रहते हैं।

2013 के वोट

भाजपा : उत्तम ठाकुर 51321
कांग्रेस : कमलेश शाह 55684

ये हैं चार मुद्दे

स्वास्थ्य सुविधाएं, रोजगार की तलाश में पलायन, बेलगाम नौकरशाही, भ्रष्टाचार

भाजपा के मजबूत दावेदार

उत्तम ठाकुर, प्रेम नारायण ठाकुर, कांता ठाकुर

कांग्रेस के मजबूत दावेदार

कमलेश शाह, कामिनी शाह, महेश धुर्वे

ये भी ठोक रहे ताल

बसपा- जुधिया प्रसाद भलावी
सपा- सुनील अहके
गोंडवाना गणतंत्र पार्टी- मनमोहन शाह, राजकुमार सरेयाम, रीझन शाह
आप- संतलाल परतेती,कुबेर उइके,शनि सरेयाम,प्रमोद धुर्वे,अनिल धुर्वे

दावेदारों की सक्रियता

अमरवाड़ा विधायक कमलेश शाह हर्रई जागीर के राजघराने से हैं। उन पर विपक्षी दल हर्रई तक सीमित होने के आरोप लगाते रहे हैं। गोंडवाना से मनमोहन शाह, भाजपा से उत्तम ठाकुर सक्रिय रहे हैं।

चुनौतियां

अमरवाड़ा में गोंगपा की मजबूत पकड़ भाजपा और कांग्रेस दोनों के लिए चुनौती है। गोंडवाना के बसपा, सपा और आप जैसे छोटे दल से गठबंधन के संकेत मिल रहे हैं। ये ताकत परिणाम प्रभावित कर सकती है

इनकी सुनो

अमरवाड़ा विधानसभा में गोंडवाना मुख्य रोल अदा करेगी। दोनों ही प्रमुख दलों ने आदिवासियों की भावनाओं को छला है। हम उन्हें चुनौती देकर जीत हासिल करेंगे।- झमक सरेयाम, जिला प्रभारी गोंगपा

चौरई : भ्रष्टाचार है मुख्य मुद्दा

चौ रई विधानसभा में रघुवंशी, लोधी और आदिवासी वोटर ज्यादा हैं। सामान्य वर्ग के प्रत्याशियों को यहां प्राथमिकता मिलती रही है। भाजपा और कांग्रेस दोनों यहां सक्रिय रहे हैं। इस बार के विधानसभा चुनाव में भ्रष्टाचार मुख्य मुद्दा होगा। कांग्रेस, भाजपा सरकार कों पेंच विस्थापित, किसान, बेरोजगारी के मुद्दे पर घेरने की तैयारी में है।

2013 के वोट

भाजपा : पं रमेश दुबे 70810
कांग्रेस : चौ गंभीरसिंह 57179

ये हैं चार मुद्दे

पेंच नहर, पंचायतों में भ्रष्टाचार, विस्थापितों तथा किसानों की समस्याएं

भाजपा के मजबूत दावेदार

वर्तमान विधायक पं रमेश दुबे, शैलेंद्र रघुवंशी के अलावा प्रियवरसिंह ठाकुर, वीरपाल इवनाती, अतरलाल वर्मा

कांग्रेस के मजबूत दावेदार

चौधरी गंभीरसिंह, बंटी पटेल तीरथ ठाकुर के अलावा सुजीत चौधरी और बैजू वर्मा

ये भी ठोक रहे ताल

गोंगपा- झमकलाल सरेयाम
आम आदमी पार्टी -प्रशांत शर्मा, महेश पटेल

दावेदारों की सक्रियता

वर्तमान विधायक पं रमेश दुबे तो सक्रिय हैं। प्रदेश और केंद्र की योजनाओं को लेकर मैदान में डटे हैं। कांग्रेस जनसमस्याओं को लेकर बड़े आंदोलन करती रही है। ज्वलंत मुद्दों को लेकर चुनाव लड़ेगी।

चुनौतियां

भ्रष्टाचार के आरोप और किसानों की समस्याएं भाजपा के लिए यहां चुनौती बन रही हैं। अवैध उत्खनन, शराब, सट्टा को भी कांग्रेस उछाल रही है। कांग्रेस के लिए एकजुट होना चुनौती है।

इनका दावा

किसान बुरी तरह परेशान हंै। विस्थापितों के हाल बुरे हैं। भाजपा नेता भ्रष्टाचार में डूबे हैं। कांग्रेस जनता के साथ हमेशा आंदोलनरत रही है। परिणाम चुनाव में दिखेगा। -तीरथ ठाकुर, कांग्रेस नेता चौरई

Ad Block is Banned