सर्वर और बिजली कटौती बन रही उपभोक्ताओं के लिए परेशानी

बैंक में आए दिन सर्वर ठप रहने और बिजली गुल हो जाने की समस्या बनी रहती है।

By: arun garhewal

Published: 16 May 2018, 05:33 PM IST

छिंदवाड़ा. हनोतिया/खैरवानी. ग्राम पंचायत डुंगरिया में स्थित सेन्ट्रल बैंक लगातार उपभोक्ताओं के लिए परेशानी का सबब बना हुआ है। बैंक में आए दिन सर्वर ठप रहने और बिजली गुल हो जाने की समस्या बनी रहती है। जिसके कारण बैंक के उपभोक्ताओं को लगातार परेशानी हो रही है। सोमवार 14 मई को सेन्ट्रल बैंक का सर्वर बंद हो जाने के चलते बैंक में खड़े सैकड़ों उपभोक्ताओं को परेशान होना पड़ा।
घंटों लाइन में लगने के बाद भी जब सर्वर नहीं आया तो परेशान होकर उपभोक्ताओं को खाली हाथ लौटना पड़ा। गौरतलब है कि डुंगरिया के इस सेन्ट्रल बैंक में हजारों की संख्या में खाताधारक हैं। वहीं विभिन्न पेंशनर्स भी इस बैंक में अपने पैसों का लेन-देन करते हैं। सोमवार को सर्वर बंद हो जाने के चलते वृद्धजनों को खाली हाथ लौटना पड़ा। वहीं बिजली कटौती भी उपभोक्ताओं के लिए परेशानी का सबब बन रही है।

एटीएम भी नहीं दे रहा साथ
सेन्ट्रल बैंक में सर्वर बंद हो जाने के बाद ग्राहकों की आस एटीएम से थी, लेकिन एटीएम ने भी पैसा उगलना बंद कर दिया। जिसके बाद राशि के लिए यहां-वहां भटकना पड़ा। वहीं एटीएम संचालन कम्पनियों द्वारा एटीएम में पर्याप्त राशि डाले जाने की मांग भी की गई है। स्थानीय रहवासी सूरज व्यास, शेख शुभराती, दीपक, मनीष, राजेन्द्र, गोविन्दा ने बैंक और एटीएम के सुचारू संचालन की मांग की है।

चक्काजाम में शामिल कामगारों को जारी किया नोटिस
परासिया. पानी की समस्या को लेकर शुक्रवार को भोकई तिराहा के पास वेकोलि कामगारों के आश्रित परिजनों तथा ग्रामीणों द्वारा चक्काजाम किया गया था। जिसमें वेकोलि वाहनों तथा कोयला परिवहन कर रहे ट्रकों को रोका गया था। कुछ कर्मचारियों को कार्य पर जाने से भी रोका गया। बाद में प्रशासनिक एवं वेकोलि अधिकारियों के हस्तक्षेप के बाद चक्काजाम आंदोलन समाप्त किया गया था। अब वेकोलि प्रबंधन ने कोयला परिवहन रोकने तथा कर्मचारियों को ड्यूटी पर नहीं जाने देने पर आंदोलन में शामिल 6 कर्मचारियों को नोटिस जारी कर 72 घंटे के भीतर स्पष्टीकरण मांगा है। प्रबंधन का कहना है कि चकाजाम कर रहे कर्मचारियों तथा उनके परिजनों द्वारा जानबूझकर वेकोलि कम्पनी को नुकसान पहुंचाया गया है। क्षेत्र में अपनी मांगों को लेकर कर्मचारियों ने आंदोलन किया जाता रहा है।

घर में घुसकर मारपीट
अमरवाड़ा. ग्राम सिमरिया मुल्तानी के वाजिद खान (३८) को ग्राम के ही निवासी तथा रिश्तेदार मोहसीन, रिजवान, राजू, अहमद, वाजिद खान ने घर में घुसकर मारपीट की और जान से मारने की धमकी भी दी। अमरवाड़ा पुलिस थाना के सहायक उपनिरीक्षक महेंद्र मिश्रा ने बताया कि वाजिद खान की रिपोर्ट पर आरोपी पर मामला पंजीकृत कर जांच में लिया है।

arun garhewal
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned