सीएम के क्षेत्र में ऐसी लापरवाही पीडब्ल्यूडी मंत्री ने उठाए सवाल, जानें पूरा मामला

मेडिकल कॉलेज का किया औचक निरीक्षण, पीडब्ल्यूडी मंत्री ने गुणवत्ता पर उठाए सवाल

By: Dinesh Sahu

Updated: 19 Jan 2019, 12:00 PM IST

छिंदवाड़ा. पीडब्ल्यूडी मंत्री सज्जन सिंह वर्मा तथा विधायक दीपक सक्सेना ने शुक्रवार दोपहर तीन बजे मेडिकल कॉलेज का औचक निरीक्षण किया। इस दौरान ऑडिटोरियम कक्ष में रखे फर्नीचर की गुणवत्ता पर सवाल उठाए। लैब, लाइब्रेरी समेत अन्य भवन के कई बिंदुओं पर समीक्षा की और जांच कराने के निर्देश दिए। इधर आर्किटैक्ट द्वारा नक्शा के माध्यम से पूरे कॉलेज की विस्तृत जानकारी दी गई। बताया जाता है कि अगले माह फरवरी में मुख्यमंत्री कमलनाथ मेडिकल कॉलेज तथा जिला अस्पताल की नई बिल्डिंग का लोकार्पण कर सकते हैं।

 

इसके लिए निर्माण एजेेंसी को 31 जनवरी 2019 तक समस्त आवश्यक कार्यों को पूरा करने के निर्देश दिए गए हैं। हालांकि निरीक्षण के समय डीन डॉ. तकी रजा व्यक्तिगत कारणों से जबलपुर रवाना हो गए थे। उन्होंने बताया कि वह काफी देर तक मंत्री तथा विधायक का इंतजार करते रहे, लेकिन उनके आने में देरी होने तथा शोक सभा में शामिल होने की जल्दी में उन्हें जबलपुर जाना पड़ा। इधर डीन डॉ. रजा ने बताया कि अगले महीने लेटर ऑफ परमिशन एलओपी के संदर्भ में एमसीआइ की टीम भी निरीक्षण कर सकती है।


उल्लेखनीय है कि पहले निरीक्षण में टीम को कुछ खामियां मिलीं थीं, जिसमें सुधार करने के निर्देश दिए गए थे। निरीक्षण के दौरान जिला कांग्रेस कमेटी अध्यक्ष गंगाप्रसाद तिवारी, लोक निर्माण विभाग भोपाल के प्रमुख अभियंता अखिलेश अग्रवाल, पीआइयू छिंदवाड़ा के कार्यपालन यंत्री पीयूष अग्रवाल समेत अन्य अधिकारी मौजूद थे।


सिमरिया के दर्शन कर संस्थानों का किया भ्रमण


सज्जन सिंह वर्मा शुक्रवार को सुबह छिंदवाड़ा आने के बाद सिमरिया स्थित हनुमान मंदिर दर्शन करने पहुंचे। उसके बाद उन्होंने साथ आए विभाग के उच्च तकनीकी अधिकारियों के साथ अशोक लीलेंड, सीआइआइ, एटीडीसी, एफडीडीआइ का भ्रमण किया और यहां प्रशिक्षण सम्बंधी जानकारियां लीं। वर्मा ने कहा कि राष्ट्रीय स्तर के तकनीकी संस्थान छिंदवाड़ा में होना बहुत बड़ी बात है। जिले के युवा यहां तकनीकी ज्ञान लेकर अपना भविष्य बना रहे हैं।

 

Show More
Dinesh Sahu
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned