गणित-भाषा की पुस्तकों के ये हैं हाल

गणित-भाषा की पुस्तकों के ये हैं हाल

Sandeep Chawrey | Updated: 14 Aug 2019, 12:12:18 PM (IST) Chhindwara, Chhindwara, Madhya Pradesh, India

बच्चों की दक्षता उन्नयन पर उठ रहे सवाल

छिंदवाड़ा. सरकार सरकारी स्कूलों में शिक्षा का स्तर उठाने के लिए खूब जद्दोजहद कर रही है दूसरी तरफ विभाग की लापरवाही से स्कूलों में बच्चों को पढऩे के लिए पुस्तकें तक समय पर मुहैया नहीं हो पा रही हैं। राज्य शिक्षा केंद्र शासकीय स्कूलों में अध्ययनरत छात्र-छात्राओं की दक्षता उन्नयन के लिए विभिन्न कार्यक्रम चला रहा है, लेकिन अब तक जिले के कई विकासखंडों में गणित तथा भाषा की पुस्तकें उपलब्ध नहीं हो सकी हंै। इसके चलते सम्बंधित विकासखंड के स्कूलों में पढऩे वाले विद्यार्थियों की शैक्षणिक गुणवत्ता में सुधार पर संदेह नजर आ रहा है। उल्लेखनीय है कि सत्र 2019-20 का नवीन आकादमिक कार्यक्रम शुरू हुए दो महीने से अधिक समय बीत गया तथा शासकीय स्कूलों की अपेक्षा निजी स्कूलों में करीब 30 प्रतिशत पाठ्यक्रम पूरा हो गया है। ऐसे में किताबों के अभाव में शासन द्वारा चलाए जा रहे दक्षता उन्नयन अभियान की सफलता पर सवाल उठाए जा रहे है। जिला शिक्षा केंद्र छिंदवाड़ा के एपीसी एमपी चौरिया ने बताया कि शासन से गणित और भाषा विषयों की छोडकऱ अन्य विषयों की पुस्तकें उपलब्ध हो चुकी हैं तथा सम्बंधित स्कूलों में बांट दी गई हंै।
विकासखंड अप्राप्त पुस्तक कक्षा आवश्यक
हर्रई गणित छठवीं 2309
जुन्नारदेव गणित छठवीं 3702
पांढुना गणित छठवीं 1803
परासिया गणित दूसरी 2520
भाषा तीसरी 2520
भाषा चौथी 2498
गणित छठवीं 2498
सौंसर गणित छठवीं 962
तामिया गणित छठवीं 2156

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned