Railway: रेलवे की उपेक्षा का शिकार हो रहा यह जिला, पहले चरण में पूरा नहीं हो पाया ब्राडगेज कार्य

एक साथ सीआरएस कराने का दावा किया था।

By: ashish mishra

Published: 02 Mar 2021, 11:54 AM IST


छिंदवाड़ा. रेलवे ने एक बार फिर छिंदवाड़ा की उपेक्षा कर दी है। गेज कन्वर्जन विभाग के लाख दावों के बावजूद भी छिंदवाड़ा से चौरई तक गेज कन्वर्जन का कार्य मार्च के प्रथम सप्ताह में भी पूरा होता नहीं दिख रहा है। अधूरे कार्य की वजह से अब छिंदवाड़ा से चौरई तक का सीआरएस टल गया है। 2 मार्च को कमिश्नर ऑफ रेलवे सेफ्टी(सीआरएस) नैनपुर से भोमा तक हुए ब्राडगेज कार्यों का निरीक्षण करेंगे। बड़ी बात यह है कि जनवरी माह में गेज कन्वर्जन विभाग ने छिंदवाड़ा से चौरई और नैनपुर से भोमा तक एक साथ सीआरएस कराने का दावा किया था। गेज कन्वर्जन अधिकारियों का कहना था कि इसके लिए दोनों सेक्शन में कार्य भी तेज गति से हो रहा है। इसी बीच 25 फरवरी को नैनपुर से भोमा तक सीआरएस के निरीक्षण को लेकर कार्यक्रम निर्धारित हो गया है। सीआरएस 2 मार्च की सुबह 8.30 बजे से डेढ़ बजे तक नैनपुर से पलारी तक मोटर ट्राली से निरीक्षण करेंगे। इसके पश्चात दोपहर डेढ़ से ढाई बजे तक वे रेल अधिकारियों से चर्चा करेंगे। दोपहर ढाई बजे वे पलारी से भोमा तक मोटर ट्राली से निरीक्षण करेंगे। इसके पश्चात वे शाम 4.45 बजे भोमा से नैनपुर तक डीजल इंजन से स्पीड ट्रायल करेंगे। सीआरएस के निरीक्षण के दौरान कोई खामी नहीं मिली तो फिर यह सेक्शन अप्रूव हो जाएगा।

छिंदवाड़ा की अपेक्षा नैनपुर सेक्शन चुनौतिपूर्ण
छिंदवाड़ा से चौरई तक ब्राडगेज कार्य को पूरा करने में कोई बड़ी रुकावट नहीं थी। इस सेक्शन में न अधिक बड़े ब्रिज हैं और न ही टनल। इसके अपेक्षा नैनपुर से भोमा के बीच कई बड़े ब्रिज हैं। उम्मीद थी कि पहले खंड में छिंदवाड़ा से चौरई तक ब्राडगेज कार्य पूरा होगा, लेकिन ऐसा हुआ नहीं। गेज कन्वर्जन विभाग ने पहले नैनपुर से भोमा तक ब्राडगेज कार्य पूरा करने की प्राथमिकता दी। बता दें कि गेज कन्वर्जन विभाग द्वारा छिंदवाड़ा से नैनपुर तक ब्राडगेज कार्य चार खंड में करने का लक्ष्य रखा गया है। इसमें अब पहला खंड नैनपुर से भोमा, दूसरा खंड छिंदवाड़ा से चौरई, तीसरा खंड भोमा से सिवनी एवं चौथा खंड सिवनी से चौरई तक निर्धारित किया गया है।

मार्च में करा लेंगे सीआरएस
2 मार्च को नैनपुर से भोमा तक हुए ब्राडगेज कार्य का सीआरएस निरीक्षण करेंगे। छिंदवाड़ा से चौरई ब्राडगेज कार्य अभी पूरा नहीं हो पाया है। इस सेक्शन में जल्द से जल्द कार्य पूरा कर सीआरएस का निरीक्षण कराया जाएगा।

मनीष लावनकर, डिप्टी सीई, गेज कन्वर्जन विभाग

ashish mishra Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned