scriptRAILWAY: CRS will have to be done again if the train does not run soon | RAILWAY: जल्द ट्रेन नहीं चली तो फिर से कराना होगा छिंदवाड़ा-नैनपुर तक सीआरएस | Patrika News

RAILWAY: जल्द ट्रेन नहीं चली तो फिर से कराना होगा छिंदवाड़ा-नैनपुर तक सीआरएस

छह माह के अंदर यात्री ट्रेन चलानी पड़ती है।

छिंदवाड़ा

Updated: June 13, 2022 03:18:49 pm


छिंदवाड़ा. दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे नागपुर मंडल के अंतर्गत छिंदवाड़ा-नैनपुर-मंडला फोर्ट रेल परियोजना के पूरे हुए तीन माह हो चुके हैं, लेकिन अब तक ट्रेन परिचालन को लेकर कोई निर्णय नहीं हुआ है। जबकि रेलवे से जुड़े जानकारों की मानें तो नियमानुसार सीआरएस के अप्रूवल मिलने के बाद छह माह के अंदर यात्री ट्रेन चलानी पड़ती है। किसी कारणवश निर्धारित अवधि में ट्रेन नहीं चली तो फिर से सीआरएस कराना होगा। अगर ऐसा हुआ तो लोगों को लगभग एक साल ट्रेन सुविधा मिलने का इंतजार करना होगा। गौरतलब है कि बीते १३ मार्च को सीआरएस ने छिंदवाड़ा-नैनपुर मंडला फोर्ट रेल परियोजना का अंतिम खंड चौरई से भोमा(५४ किमी) रेलमार्ग को अप्रूव किया था। तब से ही लोग छिंदवाड़ा से सिवनी, नैनपुर होते हुए जबलपुर तक ट्रेन सुविधा का इंतजार कर रहे हैं। बता दें कि छिंदवाड़ा से सिवनी, नैनपुर एवं आसपास का क्षेत्र दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे के अंतर्गत आता है। लगभग छह वर्ष पहले तक इस क्षेत्र में नैरोगेज ट्रेन का परिचालन होता था। इसके बाद नैरोगेज ट्रेन का परिचालन बंद कर दिया गया। ब्राडगेज के लिए चरणबद्ध कार्य शुरु हुआ। तीन माह पहले परियोजना पूरी होने के बाद भी ट्रेन का परिचालन शुरु नहीं हुआ। स्थानीय लोगों का कहना है कि वर्ष 2015 में गेज कन्वर्जन कार्य शुरु हुआ। वर्षों से हम टे्रन सुविधा का इंतजार कर रहे हैं। अब जबकि बड़ी रेल लाइन का कार्य पूरा हो चुका है तो रेलवे को जल्द से जल्द ट्रेन चलानी चाहिए।
RAILWAY ----बिना ट्रेन बदले अब कृष्ण जन्मभूमि की यात्रा, बाड़मेर से मथुरा-वृन्दावन सीधी ट्रेन
RAILWAY ----बिना ट्रेन बदले अब कृष्ण जन्मभूमि की यात्रा, बाड़मेर से मथुरा-वृन्दावन सीधी ट्रेन
विद्युतकार्य पूरा होने में लगेगा समय
भविष्य में रेलवे की योजना है कि हर जगह विद्युत इंजन से ही ट्रेन का परिचालन हो। जबकि अभी छिंदवाड़ा से नैनपुर के बीच विद्युत कार्य चल रहा है। दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे के अधिकारी सभी खंड में विद्युत कार्य पूरा होने के बाद ही छिंदवाड़ा से जबलपुर तक ट्रेन चलाने के मूड में है। हालांकि विद्युत कार्य पूरा होने में अभी सात से आठ माह का समय लगेगा। जबकि नियम के अनुसार सितंबर 2022 तक यात्री ट्रेन चलानी ही होगी। ऐसा न करने पर दोबारा सीआरएस कराना पड़ेगा।

९ जून को स्पीड ट्रायल से जगी उम्मीद
बीते ९ जून को नागपुर से आए वरिष्ठ रेल अधिकारियों की उपस्थिति में डीजल इंजन से छिंदवाड़ा से नैनपुर(140 किमी रेलमार्ग) तक अधिकतम 90 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से ट्रायल किया गया है। अधिकारियों को ट्रैक पर कोई खामी नहीं मिली है। हालांकि स्पीड ट्रायल कराने के पीछे अभी मुख्य वजह सामने नहीं आई है। हां यह जरूर है कि लोगों को एक बार फिर से जल्द ट्रेन सुविधा की उम्मीद जग गई है।

जबलपुर तक 250 किमी की दूरी
छिंदवाड़ा, चौरई, सिवनी, भोमा, नैनपुर होते हुए जबलपुर तक रेलमार्ग की कुल दूरी लगभग 250 किमी है। जबलपुर पहुंचने के लिए लोगों को बस एवं निजी वाहनों का सहारा लेना पड़ता है। लोगों का कहना है कि अब तक महंगा किराया देना उनकी मजबूरी थी, लेकिन अब जबकि रेलमार्ग का कार्य पूरा हो चुका है तो उन्हें सुविधा मिलनी चाहिए।

बढ़ जाएगी व्यापारिक गतिविधियां, मिलेगी सुविधा
छिंदवाड़ा से नैनपुर होते हुए जबलपुर तक ट्रेन सुविधा बहाल हो जाने से छिंदवाड़ावासियों एवं आसपास के जिले के लोगों को काफी फायदा पहुंचेगा। लोगों को जबलपुर जाने के लिए बस एवं निजि साधन का सहारा लेना पड़ता है। उत्तर प्रदेश, बिहार सहित अन्य राज्यों में जाने के लिए ट्रेन सुविधा भी मिल जाएगी। पैसे के साथ समय की भी बचत होगी। व्यापारिक गतिविधियां बढ़ेगी। इसके अलावा रोजगार के साधन भी बढ़ेंगे।
वर्ष 2015 से गेज कन्वर्जन कार्य हुआ था शुरु
1 नवंबर 2015 को गेज कन्वर्जन कार्य के लिए नैनपुर-छिंदवाड़ा, नैनपुर-मंडला, नैनपुर-बालाघाट एवं एक अक्टूबर 2015 से जबलपुर-नैनपुर खंड पर नैरोगेज का परिचालन बंद कर दिया गया था। इसके बाद गेज कन्वर्जन विभाग द्वारा ब्राडगेज रेलमार्ग के लिए चरणबद्ध रूप से कार्य किया गया।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

मौसम अलर्ट: जल्द दस्तक देगा मानसून, राजस्थान के 7 जिलों में होगी बारिशइन 4 राशियों के लोग होते हैं सबसे ज्यादा बुद्धिमान, देखें क्या आपकी राशि भी है इसमें शामिलस्कूलों में तीन दिन की छुट्टी, जानिये क्यों बंद रहेंगे स्कूल, जारी हो गया आदेश1 जुलाई से बदल जाएगा इंदौरी खान-पान का तरीका, जानिये क्यों हो रहा है ये बड़ा बदलावNumerology: इस मूलांक वालों के पास धन की नहीं होती कमी, स्वभाव से होते हैं थोड़े घमंडीबुध जल्द अपनी स्वराशि मिथुन में करेंगे प्रवेश, जानें किन राशि वालों का होगा भाग्योदयमोदी सरकार ने एलपीजी गैस सिलेण्डर पर दिया चुपके से तगड़ा झटकाजयपुर में रात 8 बजते ही घर में आ जाते है 40-50 सांप, कमरे में दुबक जाता है परिवार

बड़ी खबरें

Maharashtra Political Crisis: शिवसेना के सारे MLA-Minister हुए बागी, उद्धव के साथ बचे सिर्फ MLC-Minister और बेटा आदित्य ठाकरेMaharashtra Political Crisis: महाराष्ट्र में क्या बन रहे हैं नए सियासी समीकरण? बागी एकनाथ शिंदे ने राज ठाकरे से की फोन पर बातचीतPunjab Budget LIVE Updates: वित्तमंत्री हरपाल चीमा ने कहा- टैक्स चोरी रोकने के लिए इंटेलिजेंस यूनिट बनाएगी सरकारRajasthan Invest Summit : कांग्रेस शासित राजस्थान में 1.68 लाख करोड़ के निवेश की तैयारी में Rahul Gandhi के 'Double A'जम्मू कश्मीर: अमरनाथ यात्रा से पहले डोडा में पुलिस पर हमले की साजिश रच रहा लश्कर का आतंकी गिरफ्तार, चीनी पिस्तौल बरामदRam Nath Kovind Vrindavan Visit : राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद वृंदावन पहुंचे, सीएम योगी ने किया स्वागत, जानें पूरा कार्यक्रमExclusive Interview: राष्ट्रपति उम्मीदवार यशवंत सिन्हा को किस आधार पर जीत की उम्मीद और क्या बोले आदिवासी महिला के खिलाफ उम्मीदवारी परराष्ट्रपति चुनाव: विपक्ष के उम्मीदवार यशवंत सिन्हा आज नामांकन दाखिल करेंगे
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.