scriptrapid rise in unemployment | हाथ को काम नहीं, तेजी से बढ़ी बेरोजगारी | Patrika News

हाथ को काम नहीं, तेजी से बढ़ी बेरोजगारी

unemploymentस्थानीय स्तर पर रोजगार की तलाश, जिला रोजगार कार्यालय से भी निराशा

छिंदवाड़ा

Published: May 18, 2022 12:18:15 pm

छिंदवाड़ा. कोरोना का कहर और लॉकडाउन की वजह से बड़ी संख्या में लोग बेरोजगार हो गए। कल, कारखाने और आय के साधन बंद होने से जन्मभूमि पर लौटना पड़ा। बेरोजगार हुए युवा अब स्थानीय स्तर पर रोजगार की तलाश कर रहे हैं। छिंदवाड़ा जिला रोजगार कार्यालय में पंजीयन की संख्या लगातार बढ़ रही है। 2020 में 15092 युवाओं ने रोजगार के लिए पंजीयन कराया था, वहीं 2021 में पंजीयन की संख्या दोगुनी से भी ज्यादा हो गई। 34277 युवाओं ने रोजगार के लिए जिला रोजगार कार्यालय का दरवाजा खटखटाया। 2017 से अब तक जिला रोजगार कार्यालय में 99908 बेरोजगारों ने पंजीयन कराया है, लेकिन यहां भी निराशा ही हाथ लगी है। मात्र 8.79 प्रतिशत युवाओं को ही रोजगार मिल पाया है। 85 मेलों में 8787 आवेदकों का चयन हुआ है।

unemployment

ओबीसी वर्ग के सबसे ज्यादा
वर्ष 2021 में जिला रोजगार कार्यालय में 34277 युवाओं ने रोजगार के लिए पंजीयन कराया है। इसमें ओबीसी वर्ग के सबसे ज्यादा आवेदक हैं। 13835 ओबीसी वर्ग के युवाओं ने पंजीयन कराया है। एसटी वर्ग के 11018, एसी वर्ग के 6123 और अनारक्षित वर्ग के 3301 पंजीयन हुए हैं। 64.99 प्रतिशत पुरुष और 34.99 प्रतिशत महिलाओं ने आवेदन किया है।

उच्च शिक्षा के बाद भी रोजगार नहीं
उच्च शिक्षा हासिल करने के बाद भी रोजगार नहीं मिल रहा है। इसका खुलासा जिला रोजगार कार्यालय के पंजीयन के आंकड़ों से हुआ है। रोजगार के लिए एमबीए, पीएचडी, एमएड, बीएड, बीएससी, बीटेक, सीए, एलएलबी, एलएलएम, एमटेक जैसे उच्च शिक्षा प्राप्त युवाओं ने पंजीयन कराया है।

जिला रोजगार कार्यालय में पंजीयन और प्राप्त रोजगार की स्थिति
वर्ष कुल पंजीयन आयोजित मेले चयनित आवेदक
2017 4444 5 803
2018 4619 3 2164
2019 37153 0 0
2020 15092 0 0
2021 34277 56 4684
2022 4323 21 1136

हुनर की कमी
कोरोना महामारी बेरोजगारों की बढ़ती संख्या का एक बहुत बड़ा कारण है। इसकी वजह से विश्वविद्यालय में पढऩे वाले विद्यार्थियों की नियमित पढ़ाई नहीं हो सकी। परीक्षा परिणाम भी दो वर्षों से लगभग 100 प्रतिशत बना हुआ है। निजी कंपनी में रोजगार के अवसर तो हंै किन्तु काबिलियत/ हुनर की कमी की वजह से युवा बेरोजगार बना हुआ है। सरकारी क्षेत्रों में भी नियमित भर्तियां न हो पाना भी बेरोजगारी की एक बड़ी वजह है।
मनोज सोनी, डायरेक्टर, सोनी कंप्यूटर एजुकेशन

अवसर दिए जा रहे
रोजगार कार्यालय द्वारा रोजगार मेले के माध्यम से युवाओं को विभिन्न कंपनियों में रोजगार उपलब्ध कराने के अवसर दिए जा रहे हैं। अब तक सैकड़ोंं युवाओं का चयन किया गया है।
- माधुरी भलावी, जिला रोजगार अधिकारी

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Weather. राजस्थान में आज 18 जिलों में होगी बरसात, येलो अलर्ट जारीसंस्कारी बहू साबित होती हैं इन राशियों की लड़कियां, ससुराल वालों का तुरंत जीत लेती हैं दिलशुक्र ग्रह जल्द मिथुन राशि में करेगा प्रवेश, इन राशि वालों का चमकेगा करियरउदयपुर से निकले कन्हैया के हत्या आरोपी तो प्रशासन ने शहर को दी ये खुश खबरी... झूम उठी झीलों की नगरीजयपुर संभाग के तीन जिलों मे बंद रहेगा इंटरनेट, यहां हुआ शुरूज्योतिष: धन और करियर की हर समस्या को दूर कर सकते हैं रोटी के ये 4 आसान उपायछात्र बनकर कक्षा में बैठ गए कलक्टर, शिक्षक से कहा- अब आप मुझे कोई भी एक विषय पढ़ाइएUdaipur Murder: जयपुर में एक लाख से ज्यादा हिन्दू करेंगे प्रदर्शन, यह रहेगा जुलूस का रूट

बड़ी खबरें

Eknath Shinde Property: मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे से 12 गुना ज्यादा अमीर हैं शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे, जानें किसके पास कितनी संपत्तिपश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री के आवास में घुसने वाले शख्स ने परिसर को समझ लिया था कोलकाता पुलिस का मुख्यालयबीजेपी नेता कपिल मिश्रा को मिली जान से मारने की धमकी, ईमेल में लिखा - 'हम तुम्हें जीने नहीं देंगे'हैदराबाद के एक कार्यक्रम में भाग लेने पहुंचे RCP सिंह तो BJP में शामिल होने की लगने लगी अटकलें, भाजपा ने कही ये बातप्रदेश के भोपाल, इंदौर समेत 11 नगर निगमों में मतदान 6 को, चुनावी शोर थमाकानपुर मेट्रो: टनल बनाने का काम शुरू, देश को समर्पित करने के विषय में मिली ये जानकारीउदयपुर कन्हैया हत्याकांड का वीडियो सोशल मीडिया पर पोस्ट करने पर युवक गिरफ्तारवरिष्ठता क्रम सही करने आरक्षकों की याचिका पर विभाग को 21 दिन में निर्णय लेने का आदेश
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.