scriptRegistrar of Chhindwara University caught taking bribe of Rs 25 thousa | छिंदवाड़ा विवि का कुलसचिव 25 हजार की रिश्वत लेते धराया | Patrika News

छिंदवाड़ा विवि का कुलसचिव 25 हजार की रिश्वत लेते धराया

locationछिंदवाड़ाPublished: Feb 05, 2024 07:54:12 pm

- निजी कॉलेज से संचालन के नाम पर मांगी थी रिश्वत
- लोकायुक्त जबलपुर ने विवि कार्यालय में की कार्रवाई

photo_6199379190189506309_y.jpg
कुलसचिव मेघराज निनामा
छिंदवाड़ा। राजा शंकरशाह विश्वविद्यालय छिंदवाड़ा के कुलसचिव मेघराज निनामा को जबलपुर लोकायुक्त पुलिस ने सोमवार को 25 हजार रुपए की रिश्वत लेते रंगेहाथ पकड़ा है। कुलसचिव ने सिवनी रोड सोनाखार स्थित निजी कॉलेज एसएस कॉलेज ऑफ कम्प्यूटर प्रोफेशनल स्टडी के संचालक अनुराग कुशवाह से एक साल तक कॉलेज के बेरोकटोक संचालन के नाम पर एक लाख रुपए की रिश्वत मांगी थी। इस राशि की पहली किस्त 25 हजार रुपए लेने के दौरान विवि कार्यालय में लोकायुक्त टीम ने यह कार्रवाई की।
शिकायतकर्ता अनुराग कुशवाह ने बताया कि कॉलेज संचालन में किसी भी तरह की समस्या ना आए और विवि की ओर से कोई कार्रवाई ना हो, इसके लिए कुलसचिव मेघराज निनामा ने एक लाख रुपए रिश्वत की मांग की थी। कुशवाह ने मामले की शिकायत लोकायुक्त एसपी जबलपुर को की। इसके बाद लोकायुक्त ने कुलसचिव को ट्रैप करने की योजना बनाई। एक लाख रुपए रिश्वत की मांग के बदले मामला पचास हजार में तय हुआ। शिकायतकर्ता अनुराग कुशवाह पहली किस्त 25 हजार रुपए लेकर सोमवार की शाम को विवि के कुलसचिव के पास पहुंचा था। इसी दौरान लोकायुक्त ने कुलसचिव को रंगेहाथ पकड़ लिया।
इस कार्रवाई में डीएसपी लोकायुक्त जबलपुर सुरेखा परमार, निरीक्षक कमल उईके, भूपेंद्र दीवान समेत अन्य कर्मी शामिल थे।
इनका कहना है।
कॉलेज संचालक से एक साल तक कॉलेज के संचालन के नाम पर कुलसचिव मेघराम निनामा ने एक लाख की रिश्वत की मांग की थी। मामला 50 हजार में तय हुआ था, जिसकी पहली किश्त 25 हजार रुपए लेते कुलसचिव को रंगेहाथ पकड़ा गया है।
सुरेखा परमार, डीएसपी, लोकायुक्त, जबलपुर

ट्रेंडिंग वीडियो