आरटीआइ कार्यकर्ताओं ने केक काट कर खुशियां मनाई

सूचना का अधिकार अधिनियम के 16 वर्ष पूर्ण होने पर पांढुर्ना आरटीआइ कार्यकर्ताओं ने केक काटकर सूचना का अधिकार दिवस मनाया । आरटीआइ कार्यकर्ता तेजस सुरजुसे ने बताया कि 12 अक्टूबर 2005 को सूचना का अधिकार अधिनियम देश में लागू हुआ था । इस कानून के लागू होने से अर्थव्यवस्था में सुधार हुआ। नौकरशाहों को काम करने की जिम्मेदारी दी गई ।

By: Rahul sharma

Published: 13 Oct 2021, 09:11 PM IST

छिन्दवाड़ा/ पांढुर्ना . सूचना का अधिकार अधिनियम के 16 वर्ष पूर्ण होने पर पांढुर्ना आरटीआइ कार्यकर्ताओं ने केक काटकर सूचना का अधिकार दिवस मनाया । आरटीआइ कार्यकर्ता तेजस सुरजुसे ने बताया कि 12 अक्टूबर 2005 को सूचना का अधिकार अधिनियम देश में लागू हुआ था । इस कानून के लागू होने से अर्थव्यवस्था में सुधार हुआ। नौकरशाहों को काम करने की जिम्मेदारी दी गई । आम आदमी अपने आवेदनों पर हो रही कार्यवाही का संदर्भ देकर सवाल जवाब कर सकता है। सरकारी योजना की जानकारी ले सकता है। स्थापना दिवस पर पांढुर्ना में सभी आरटीआइ कार्यकर्ताओं ने केक काट कर खुशियां मनाई। इस मौके पर हाफिज खान, वसंता सांबारे, शेषराव बिरे, ललित सकरडे, दीपेश तहकित, दिलीप चौधरी व कार्यकर्ता उपस्थित थे।इधर जल जीवन मिशन के अन्र्तगत ग्राम तारा मछेरा में ग्रामीणों को पानी के दुरुपयोग को रोकने व जल बचत की शपथ सामाजिक कार्यकर्ता कैलाश सोनेवार द्वारा दिलाई गई। ग्रामीणो को बोरी-बंधान से जल को सहेजने, नलों पर टोटी लगा कर पानी बचाने का संदेश दिया गया।

Rahul sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned