Sambal Yojana: डेढ़ साल से नहीं किया गया राशि का भुगतान, शिवराज सरकार से भी टूटी उम्मीद

Sambal Yojana: राज्य शासन से नहीं आया बजट, कई बार पत्र भेज चुका निगम

By: prabha shankar

Updated: 29 Jun 2020, 05:11 PM IST

छिंदवाड़ा/ शिवराज सरकार डेढ़ साल बाद सत्ता में भले ही लौट गई हो, लेकिन अपनी लोकप्रिय योजना सम्बल के 55 हितग्राहियों को राहत का मरहम नहीं लगा सकी है। परिजन की मृत्यु पर इन्हें अब तक अनुग्रह सहायता राशि दो लाख रुपए का इंतजार है। इस पर नगर निगम द्वारा कई पत्र राज्य शासन को लिखे जा चुके हैं। श्रम विभाग से हर बार आश्वासन ही मिला है।
दो वर्ष पहले वर्ष 2018 में हुए विधानसभा चुनाव के पहले सीएम शिवराज सिंह ने इस योजना को लागू किया था। योजना में प्रावधान था कि सम्बल कार्डधारी परिवार में किसी सदस्य की मृत्यु पर तत्काल पांच हजार रुपए अंत्येष्टि सहायता और दो लाख रुपए अनुग्रह सहायता बतौर दिए जाएंगे। इस आधार पर इन 55 हितग्राहियों के केस निगम में तैयार किए गए। श्रम विभाग को भेजे गए।
आश्चर्यजनक यह है कि इन हितग्राहियों को छोडकऱ पहले के सभी केस में भुगतान हो गए। बस ये प्रकरण डेढ़ साल से लटक गए हैं। तीन माह पहले जब शिवराज सरकार वापस लौटी तो इन हितग्राहियों में आशा की किरण जागी। अभी तक उन्हें इसका लाभ न मिल पाने से ये लोग निराश हैं।

दोबारा शुरू नहीं हो पाया संबल का पंजीयन
पहले की संबल योजना कमलनाथ सरकार के समय नया सवेरा के नाम में परिवर्तित हुई, लेकिन इसका दोबारा पंजीयन का पोर्टल शुरू नहीं हो पाया। इसके चलते नए हितग्राही इससे वंचित है।

निगम में 30 फीसदी से ज्यादा हो गए अपात्र
निगम कार्यालय के अनुसार संबल में कुल 42818 पंजीयन थे। पिछली सरकार के समय सत्यापित अभियान में केवल 27341 हितग्राही पात्र पाए गए। इन्हें ही अब योजना के लाभ की पात्रता है।

Show More
prabha shankar Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned