Sanitation Survey 2021: मैदान पर ढीले पड़े निगम कर्मचारी, अगले माह होगी परीक्षा

अधिकारी वार्डों में नहीं कर रहे अलसुबह निरीक्षण, अगले माह रंैकिंग बनाए रखने का देना होगा इम्तिहान

By: prabha shankar

Published: 24 Feb 2021, 12:02 PM IST

छिंदवाड़ा। स्वच्छता सर्वेक्षण 2021 की गतिविधियों का इम्तिहान लेने मार्च में केंद्रीय शहरी विकास मंत्रालय दिल्ली की एजेंसी छिंदवाड़ा आएगी। ऐसे में स्वच्छता को मजबूत करने के बजाय उदासीनता ज्यादा देखी जा रही है। अधिकारी वार्डों में अलसुबह सफाई व्यवस्था का आकस्मिक निरीक्षण नहीं कर रहे हैं तो मैदानी कर्मचारी भी सफाई में ढीले पड़ गए हैं।
कैलेण्डर की तारीख में 22 फरवरी बीत जाने के बाद मार्च आने में चंद दिन शेष रह गए हैं। ऐसे में स्वच्छता सर्वेक्षण 2021 का इम्तिहान काफी चुनौतीपूर्ण होगा और पिछली रैंकिंग को बनाए रखना भी मुश्किल होगा। सर्वेक्षण की गाइडलाइन में छह हजार अंक निर्धारित किए गए हैं। इनमें 2400 अंक कचरा कलेक्शन, प्रोसेसिंग, स्वच्छता क्षमता निर्माण तो वहीं 1800 अंक सिटीजन फीड बैक तथा 18 सौ अंक सर्टिफिकेशन पर आधारित है।
इस गाइडलाइन पर अप्रैल से दिसम्बर तक स्वच्छता गतिविधियां कोरोना काल होने से केवल वार्डों में साफ-सफाई पर केन्द्रित रही। इस वर्ष जनवरी से जागरुकता अभियान वार्डों में जरूर शुरू किया गया, लेकिन इसका व्यापक प्रभाव दिखाई नहीं दे रहा है। मैदानी नाले-नालियों के किनारे ग्रीन नेट दिखाई नहीं दे रही है। केवल सार्वजनिक शौचालय पर आधारित ओडीएफ डबल प्लस के अंक हासिल हुए हैं। फिर भी स्वच्छता सर्वेक्षण की तैयारी में अभी कुछ 3कमियां नजर आ रहीं हैं। खासकर सुबह अधिकारियों के निरीक्षण नहीं हो पा रहे हैं। इससे मैदानी कर्मचारी भी लापरवाही पूर्वक काम कर रहे हैं।

भाजपा कार्यालय के पीछे लगा कचरे का ढेर
भाजपा कार्यालय के पीछे बड़ा तालाब के किनारे कचरे का ढेर लग रहा है। सफाई कर्मचारियों की उदासीनता से इसे साफ भी नहीं किया गया है। इसके चलते मक्खी और मच्छर पनप रहे हैं। इसका असर आसपास के दुकानदारों के स्वास्थ्य पर पड़ रहा है। इस पर निगम कर्मचारियों को ध्यान दिए जाने की आवश्यकता है।

इनका कहना है
स्वच्छता सर्वेक्षण 2021 की टीम मार्च में कभी भी छिंदवाड़ा आ सकती है। कर्मचारी कहीं लापरवाही कर रहे हैं तो उन पर सख्त कार्रवाई की जाएगी। हमारा लक्ष्य पिछली रैंकिंग से आगे निकलना है।
-एके धुर्वे, सहायक आयुक्त, नगर निगम

Show More
prabha shankar
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned