पातालकोट जमीन लीज की होगी जांच, सीएम को लिखा पत्र

पातालकोट जमीन लीज की होगी जांच, सीएम को लिखा पत्र
Scam in Patlakot land lease

Prabha Shankar Giri | Updated: 21 Jan 2019, 08:00:00 AM (IST) Chhindwara, Chhindwara, Madhya Pradesh, India

विधायक ने निर्माण का लिया जायजा

छिंदवाड़ा. अमरवाड़ा विधायक कमलेश शाह गत दिनों पातालकोट पहुंचे। यहां उन्होंने रातेड़, बीजाढाना में चल रहे निर्माण का जायजा लिया और कम्पनी कर्मचारियों सहित अधिकारियों को गुणवत्ताविहीन कार्य के लिए फटकार लगाई। विधायक ने कहा कि पहले तो आदिवासियों की जमीन शासन ने अधिग्रहित कर पर्यटन विभाग को सौंप दी। अब भारिया परिवारों के हित में सोचे बिना गैर भारिया को लीज पर दे दी गई है।
इस पूरे मामले में घोटाला समझ आ रहा है। इसकी उच्च स्तरीय जांच कराई जाएगी और आदिवासी भारिया परिवारों को उनका हक दिलाया जाएगा। इस दौरान विधायक के साथ राजा खान, नायब तहसीलदार रत्नेश ठवरे मौजूद थे।

सीएम को लिखा पत्र
विधायक कमलेश शाह ने मुख्यमंत्री को पत्र लिखकर मांग की है कि पातालकोट की बेशकीमती जमीन बिना विधायक की अनुशंसा या संज्ञान में लाए गैर आदिवासी प्रदेश से बाहर की कंपनी को लीज पर दे दी गई है। इससे आदिवासियोंं को संकट से गुजरना पड़ सकता है।

यह भी किया उल्लेख
- पातालकोट के ग्राम बीजाढाना, रातेड़ पाइंट पर आदिवासियों की लगभग 25 एकड़ जमीन शासन ने अधिग्रहित कर पर्यटन के नाम कर दी।
- पर्यटन विभाग ने 20 साल के लिए उक्त जमीन गैर आदिवासी यूरेका कम्पनी को लीज पर दे दी।
- कम्पनी द्वारा यहां प्राकृतिक सम्पदा पर पक्का निर्माण कर जमीन का दोहन किया जा रहा है।
- स्थानीय भारिया को कम्पनी द्वारा अलग कर दिया गया है जिससे उनका रोजगार छिन गया है।
- यहां कम्पनी द्वारा भारिया
संस्कृति को बर्बाद किया
जा रहा है। इसे सहेजना अत्यंत आवश्यक है।
- जिस अधिकारी द्वारा लीज प्रदान की गई है उनके खिलाफ दंडात्मक कार्यवाही करते हुए लीज निरस्त कर आदिवासियों की जमीन सम्बंधित को वापस दिलाई जाए जिससे भारिया संस्कृति को बचाया जा सके।
- वर्तमान में चल रहे निर्माण पर अविलंब रोक लगाई जाकर उच्च स्तरीय जांच कराई जाए।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned