Scam: हजारों नाम ऐसे जिनकी मृत्यु या चले गए घर छोडकऱ

Scam: राशन कार्ड की आधार सीडिंग सर्वे में आया तथ्य, दावे-आपत्ति के बाद हटाए जाएंगे नाम

By: prabha shankar

Published: 02 Aug 2020, 04:55 PM IST

छिंदवाड़ा/ राशन वितरण में कार्डधारक का आधार नम्बर की सीडिंग अनिवार्य करने के राज्य शासन के फैसले से जिले में 48 हजार नाम ऐसे आए, जिनकी मृत्यु हो चुकी है या फिर वे कहीं घर छोडकऱ चले गए हैं। सम्बंधित कार्डधारियों द्वारा अभी तक उनका नाम नहीं कटवाया गया है। खाद्य आपूर्ति विभाग ने ऐसे नामों को हटाने के लिए दावे-आपत्ति की प्रक्रिया शुरू कर दी है।
खाद्य आपूर्ति विभाग की जानकारी के अनुसार पूरे जिले में 715 राशन दुकान में 3.50 लाख परिवार प्राथमिक श्रेणी के होने से राशन के पात्र हैं। हाल ही में चलाए गए अभियान से 92 प्रतिशत आधार सीडिंग का काम पूरा हो गया है। इस दौरान यह तथ्य सामने आया कि किसी के परिवार का सदस्य मृतक है तो कोई दूसरे के राशन कार्ड पर मौज कर रहा है। किसी का पता ही गायब है। ऐसे नाम खुद राशन दुकान संचालकों द्वारा भी खाद्य आपूर्ति कार्यालय में दर्ज कराए गए हैं। इस सर्वेक्षण में करीब 48 हजार नाम आए हैं।
आश्चर्यजनक यह भी है कि इन लोगों के नाम पर अभी तक राशन लिया जा रहा था। फिलहाल इस आधार सीडिंग के बाद सही और जरूरतमंद लोगों को राशन सुनिििश्चत हो सकेगा।

इनका कहना है
जिले में 2.20 लाख राशनकार्ड धारियों का आधार सीडिंग होना था। उनमें से 92 प्रतिशत काम पूरा हो गया है। करीब 48 हजार लोगों के नाम हटाने के लिए दावे-आपत्तियों की प्रक्रिया शुरू हो गई है। 15 अगस्त तक यह काम पूरा हो सकेगा।
जीपी लोधी, जिला आपूर्ति अधिकारी

Show More
prabha shankar Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned