Section 144 applied: बॉर्डर सील, विवाह में अब केवल 200 लोग, जानिए और क्या-क्या


कलेक्टर ने जारी किए आदेश

By: prabha shankar

Published: 25 Feb 2021, 11:47 AM IST

छिंदवाड़ा। कलेक्टर एवं जिला दण्डाधिकारी सौरभ कुमार सुमन ने महाराष्ट्र राज्य में कोविड-19 के प्रकरणों में तेजी से वृद्धि के दृष्टिगत दण्ड प्रक्रिया संहिता-1973 की धारा-144 पूरे जिले में लागू कर दी है।
जारी आदेश के अनुसार जिले में आयोजित भूराभगत महादेव मेला और नागदेव मेला नवेगांव को प्रतिबंधित कर दिया गया है। साथ ही महाराष्ट्र राज्य से जिला छिंदवाड़ा में प्रवेश करने वाले व्यक्तियों को चैकपोस्ट पर थर्मल स्केनिंग से जांच कराया जाना अनिवार्य कर दिया गया है तथा व्यक्तियों द्वारा कोविड-19 की नेगेटिव जांच रिपोर्ट प्रस्तुत करने के बाद प्रवेश की अनुमति रहेगी।
जारी आदेश के अनुसार वैवाहिक कार्यक्रमों में वर एवं वधु पक्ष से 100-100 व्यक्ति कुल 200 व्यक्ति ही उपस्थित रह सकेंगे। इन 200 व्यक्तियों में पंडित, नाई आदि सम्मिलित रहेंगे।
वैवाहिक कार्यक्रम की पूर्व सूचना सम्बंधित क्षेत्र के एसडीएम, तहसीलदार और थाना प्रभारी को निर्धारित प्रारूप में प्रस्तुत कर अनुविभाग स्तर पर एसडीएम और तहसील स्तर पर तहसीलदार से अनुमति प्राप्त करना होगा। इन कार्यक्रमों के लिए व्यक्तियों की उपस्थिति उपलब्ध स्थान की क्षमता के 50 प्रतिशत या अधिकतम 200 व्यक्तियों से अधिक नहीं रहेगी।
किसी भी प्रकार के सामाजिक, धार्मिक, मनोरंजन, सांस्कृतिक कार्यक्रम, धार्मिक जनसभाएं, रैली, आम सभा, धरना प्रदर्शन आदि के आयोजन के पूर्व संबंधित क्षेत्र के एसडीएम/तहसीलदार से विधिवत अनुमति लिया जाना अनिवार्य रहेगा। इसी प्रकार आम जन द्वारा मास्क लगाया जाना, सोशल डिस्टेंसिंग और सेनेटाइजर का उपयोग किया जाना भी अनिवार्य रहेगा ।

स्वास्थ्य जांच शुरू
सौंसर/बोरगांव. एक बार फिर कोरोना के मरीज बढऩे से प्रशासन सतर्कता बरत रहा है। महाराष्ट्र सीमा के सातनुर में प्रशासन द्वारा जांच पड़ताल की जा रही है। स्वास्थ्य जांच के बाद भी लोगों को आने दिया जा रहा है।
नागपुर व अमरावती में कोरोना के मरीज बढऩे से बिना जांच के किसी को मध्य प्रदेश सीमा में प्रवेश नहीं होने दिया जा रहा है। जांच के दौरान एसडीएम कुमार सत्यम, तहसीलदार महेश अग्रवाल, खंड चिकित्सा अधिकारी डॉ. एन के शास्त्री, लोधीखेड़ा थाना प्रभारी भूपेंद्र गुलबांके नजर रख रहे हैं। यहां पुलिस की मौजूदगी में स्वास्थ्य कर्मी जांच कर रहे हैं। जरूरी खरीदारी, इलाज, व्यवसाय व अन्य कामों से नागपुर जाने वाले लोगों को अब मुश्किल होने लगी है। नागरिकों को मास्क पहनने, सोशल डिस्टेंस की समझाइश दी जा रही है।

Show More
prabha shankar
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned