16 साल बाद सामने आई पत्नी की हकीकत, पति ने उठाया के कदम

ज्यादातर प्रकरणों को सुनवाई के लिए न्यायालय जाने की सलाह दी गई।

By: prabha shankar

Updated: 10 Nov 2017, 11:47 AM IST

छिंदवाड़ा. कोतवाली थाना परिसर स्थित परिवार परामर्श केंद्र में गुरुवार को परिवारिक विवाद के मामलों पर सुनवाई हुई। परामर्श केंद्र के सदस्यों ने रखे हुए प्रकरणों पर सुनवाई कर समझौता कराने का प्रयास किया, लेकिन एक भी प्रकरण में समझौता नहीं करा पाए। ज्यादातर प्रकरणों को सुनवाई के लिए न्यायालय जाने की सलाह दी गई।
शादी के सोलह साल और दो बच्चे होने के बाद पति को अचानक पत्नी के चरित्र पर संदेह होने लगा। पत्नी मोबाइल पर लम्बे समय तक बात करने और सोशल साइट पर चैट करने को लेकर पति को शक हो गया। इसी बात को लेकर दोनों के बीच विवाद हुआ और दोनों ने एक दूसरे के खिलाफ परिवार परामर्श केंद्र में आवेदन दिया। गुरुवार को इसी प्रकरण में सुलह कराने के लिए सदस्यों ने काफी माथापच्ची की, लेकिन उन्हें सफलता नहीं मिली। आखिरकार दोनों पक्ष को न्यायालय जाने की सलाह दी गई। गुरुवार को सुनवाई के लिए पांच प्रकरण रखे गए थे।

अच्छे काम को मिला सम्मान
छिंदवाड़ा . कुंडीपुरा थाना परिसर में गुरुवार को ग्राम एवं नगर रक्षा समिति सदस्यों की बैठक हुई। इसमें अच्छा काम करने वाले समिति के सदस्यों को सम्मानित किया गया। दायित्व बताए गए और निष्क्रिय सदस्यों को बाहर कर नए सदस्य जोड़े गए। सुरक्षा के लिए सभी को बाइक चलाते समय हेलमेट पहनने की सलाह दी गई साथ ही क्षेत्र के लोगों को भी इसके लिए जागरूक करने कहा गया। बैठक में सीएसपी शिवेश सिंह बघेल, कुंडीपुरा थाना प्रभारी रत्नेश मिश्रा, ग्राम और नगर रक्षा समिति के जिला प्रमुख शेषराव लाड़े सहित सदस्य मौजूद थे।

समस्या का नहीं निकला हल
छिंदवाड़ा. चंदनगांव की एक महिला रीना ठेंगे ने जिला अस्पताल में इलाज में अनियमितता की शिकायत सीएम हेल्पलाइन में की है। उन्होंने बताया कि उनकी डिलेवरी 28 नवम्बर 2016 को जिला अस्पताल में हुई थी। उसके बाद कॉपर-टी लगाई गई। तब से ही स्वास्थ्यगत समस्याएं आ रही हैं। इसके लिए अस्पताल की चिकित्सक को भी दिखाया गया लेकिन कोई समाधान नहीं निकला। उसने डॉक्टर पर कार्रवाई की मांग की।

prabha shankar
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned