scriptSmart City: The city will flourish as a digital city | Smart City: डिजिटल शहर के रूप में निखरेगा शहर | Patrika News

Smart City: डिजिटल शहर के रूप में निखरेगा शहर

रोशनी, स्वच्छता, राजस्व वसूली के लिए होगा आधुनिक तकनीकी का इस्तेमाल

छिंदवाड़ा

Published: July 29, 2021 11:39:45 am

छिंदवाड़ा। छिंदवाड़ा पत्रिका। वर्ष 2020 में कोरोना की पहली लहर की शुुरुआत में ही छिंदवाड़ा नगर निगम आयुक्त के रूप में आए हिमांशु सिंह की चुनौतियां कम नहीं थीं। कोरोना संक्रमण केदौरान राहत कार्यों में सक्रिय भागीदारी निभाते हुए निगम के सम्पूर्ण दायित्वों को पूरा करने के साथ, दूसरी लहर में संक्रमण से बचाव, मास्क की जागरुकता और कोरोना मृतकों का सम्मानपूर्वक अंतिम संस्कार इन्हीं के नेतृत्व में किया गया।
संक्रमण थमने के बाद लॉकडाउन खुला, लेकिन मानवीयता के पहलुओं पर गौर करते हुए उन्होंने राजस्व एवं करों की वसूली के लिए सख्ती नहीं अपनाई। डिजिटल इंडिया की थीम को अपनाकर ज्यादातर व्यवस्थाओं को तकनीकों से जोडऩे के लिए प्रयासरत रहने वाले निगम आयुक्त हिमांशु सिंह की मंशा है कि छिंदवाड़ा निगम क्ष़ेत्र के आखिरी छोर तक सभी प्रकार की व्यवस्थाएं हों। नागरिकों को निगम से मिलने वाली सुविधाएं एवं योजनाओं का लाभ समय पर मिलता रहे।
chhindwara
chhindwara
प्रश्न: शहर की स्वच्छता सुनिश्चित करने के लिए क्या योजना है?
उत्तर: डोर टू डोर कचरा कलेक्शन के लिए अब नया प्रयोग करने जा रहे हैं। इसमें हर घर के बाहर बार कोड लगाया जाएगा। गाडिय़ां निकलते ही बारकोड दर्ज हो जाएगा। व्हीकल टै्रकिंग मैनेजमेंट सिस्टम से लैस होकर गाडिय़ों को हर घर के सामने जाना ही होगा।
प्रश्न: ग्रामीण निगम में कचरा प्रबंधन को लेकर क्या तैयारियां हैं?
उत्तर: अब भी ग्रामीण निगम के अंतर्गत शामिल कुछ गांवों तक वाहनों की पहुंच नहीं हैं। इसके लिए निगम गांव का कचरा गांव में ही निपटान करने की व्यवस्था कर रहा है। गीले कचरे को खाद के रूप में बदलने के लिए मटका पद्धति का इस्तेमाल किया जाएगा।
प्रश्न: शहर की रोशनी व्यवस्था को कैसे डिजिटल किया जा रहा है ?
उत्तर: न्यू इनर्जी संस्था पूरे शहर में एलइडी लाइट लगा रही है। करीब सात सौ एलइडी लग चुकी है। तीन महीने के अंदर काम पूरा किया जाना है। सभी पोलों में केबल डाली जाएगी। यह भी जीपीएस सिस्टम से जुड़ेगा, ताकि बंद होने पर जल्द बदला जा सके।
प्रश्न: सुंदर पर्यावरण के लिए पार्कों की क्या तैयारी है?
उत्तर: शहर के एक हिस्से में धरमटेकरी पार्क तैयार है। वहीं दूसरे हिस्से में भरतादेव पार्क का भी सौंदर्यीकरण किया जा रहा है। इसके साथ ही अलग-अलग वार्डों के 40-50 पार्कों को बनाने की योजना पर काम चल रहा है।
प्रश्न: क्या अवैध कॉलोनी में सीवरेज लाइन डाली जाएगी?
उत्तर: जहां भी लोग रह रहे हैं वहां सीवर लाइन डाली जाएगी, चाहे वह अवैध कॉलोनी क्यों न हो। कमजोर रेनोवेशन पर भी ध्यान केन्द्रित किया गया है, उसे भी ठीक करवाया जाएगा।
प्रश्न: ग्रामीण निगम की पुरानी सडक़ों एवं पानी निकासी के लिए योजना?
उत्तर: निगम के साथ 24 गांव जोड़े गए हैं। इसमें अजनिया, झंडा, सोनाखार, सोनपुर सारसवाड़ा आदि गांवों की सडक़ों और नालियों के लिए टेंडर किए जाने की योजना है।
प्रश्न: पेयजल के लिए बन रही टंकियों की क्या स्थिति है?
उत्तर: सर्रा में सिर्फ एक टंकी का निर्माण हाल ही में शुरू हुआ है। बाकी सभी टंकियों के काम या तो समाप्त होने वाला है या फिर टेस्टिंग की जा रही है। जल्द ही सभी शुरू हो जाएंगी।
प्रश्न: राजस्व संग्रह बढ़ाने के लिए क्या किया जा रहा है ?
उत्तर: जीआइएस सर्वे जारी है। अगस्त तक काम पूरा हो जाएगा। रिपोर्ट मिलते ही यह जानकारी हो जाएगी कि किस जगह कितने एरिया में निर्माण कार्य हुआ है। इससे राजस्व बढ़ेगा।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Video Weather News: कल से प्रदेश में पूरी तरह से सक्रिय होगा पश्चिमी विक्षोभ, होगी बारिशVIDEO: राजस्थान में 24 घंटे के भीतर बारिश का दौर शुरू, शनिवार को 16 जिलों में बारिश, 5 में ओलावृष्टिदिल्ली-एनसीआर में बनेंगे छह नए मेट्रो कॉरिडोर, जानिए पूरी प्लानिंगश्री गणेश से जुड़ा उपाय : जो बनाता है धन लाभ का योग! बस ये एक कार्य करेगा आपकी रुकावटें दूर और दिलाएगा सफलता!पाकिस्तान से राजस्थान में हो रहा गंदा धंधाइन 4 राशि वाले लड़कों की सबसे ज्यादा दीवानी होती हैं लड़कियां, पत्नी के दिल पर करते हैं राजहार्दिक पांड्या ने चुनी ऑलटाइम IPL XI, रोहित शर्मा की जगह इसे बनाया कप्तानName Astrology: अपने लव पार्टनर के लिए बेहद लकी मानी जाती हैं इन नाम वाली लड़कियां
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.