Sports: तरासे जाएंगे फुटबॉल खिलाड़ी, नहीं होगी बजट की कमी

खेलो इंडिया योजना के अंतर्गत खेलो इंडिया सेंटर के रूप में मान्यता दी गई है।

By: ashish mishra

Published: 11 Oct 2021, 04:52 PM IST


छिंदवाड़ा. जिले में फुटबॉल खेल के प्रति लगाव रखने वाले खिलाडिय़ों के लिए अच्छी खबर है। भारत सरकार के युवा कार्यक्रम एवं खेल मंत्रालय द्वारा जिले के ओलम्पिक स्टेडियम को फुटबॉल खेल के लिए खेलो इंडिया योजना के अंतर्गत खेलो इंडिया सेंटर के रूप में मान्यता दी गई है। बताय जाता है कि इस योजना के तहत चार वर्षों तक पांच लाख रुपए खेल मैदान के रखरखाव एवं पांच लाख रुपए खिलाडिय़ों की जरूरी सुविधाओं के लिए दिए जाएंगे। राशि से एक उत्कृष्ट कोच की सैलरी, खिलाडिय़ों के लिए खेल सामग्री सहित अन्य सुविधाएं उपलब्ध कराई जाएंगी। खेल एवं युवा कल्याण विभाग की देखरेख में इस योजना को क्रियान्वित किया जाएगा। इस बड़ी योजना में छिंदवाड़ा को शामिल किया जाना बड़ी उपलब्धि है। बड़ी बात यह है कि इस योजना के तहत खिलाडिय़ों को साईं से एक कोच भी मिलेगा। खेल से जुड़े जानकारों का कहना है कि जिले में कई ऐसे फुटबॉल खिलाड़ी हैं जो प्रतिभा होने के बावजूद भी सुविधा के अभाव में आगे नहीं बढ़ पाते। सरकार द्वारा छिंदवाड़ा जिले को फुटबॉल खेल के लिए चयनित करने से अब ऐसे खिलाडिय़ों की उम्मीदें जग गई है।

प्रदेश के 18 जिलों का चयन
इस योजना के तहत पूरे देश के विभिन्न प्रदेशों में जिस जिले में जो खेल अधिक प्रचलित है और जहां के खिलाडिय़ों ने अपनी प्रतिभा का लोहा मनवाया है उसे चयनित किया गया है। मध्यप्रदेश में 18 जिले शामिल किए गए हैं। इसमें गुना को जुडो, उमरिया एवं नीमच को हॉकी, जबलपुर एवं भोपाल को बॉक्सिंग, छिंदवाड़ा एवं बुरहानपुर को फुटबॉल के लिए चयनित किया गया है।


प्रतिभा के आधार पर होगा चयन
इस योजना में खिलाडिय़ों प्रतिभा के आधार पर चयनित कर उन्हें तराशा जाएगा। हालांकि अभी यह स्पष्ट नहीं है कि इसमें किस उम्र के खिलाडिय़ों को मौका मिलेगा। जानकारों का कहना है कि केन्द्र सरकार द्वारा एक तरह से स्मॉल एकेडमी बनाने की पहल की गई है। इस खेल में बालक-बालिका दोनों वर्ग के खिलाडिय़ों को चयनित किया जाएगा।


इनका कहना है...
खेलो इंडिया खेलो के तहत छिंदवाड़ा में फुटबॉल खेल के लिए सेमी सेंटर खुलेगा। सांई की तरफ से कोच, खेल सामग्री सहित अन्य सुविधाएं दी जाएंगी।

रामराव नागले, जिला खेल अधिकारी

ashish mishra Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned