scriptहाल-ए-एजुकेशन : चार स्कूल ऐसे जहां एक भी शिक्षक नहीं, पढ़ें पूरी खबर | Patrika News
छिंदवाड़ा

हाल-ए-एजुकेशन : चार स्कूल ऐसे जहां एक भी शिक्षक नहीं, पढ़ें पूरी खबर

29 में सिर्फ एक, अतिथि के भरोसे पढ़ाई

छिंदवाड़ाJun 25, 2024 / 12:32 am

Sanjay Kumar Dandale

school

school

पांढुर्ना. नया शिक्षण सत्र पुरानी कमियों के साथ शुरू हो गया है। जिम्मेदार अधिकारियों व जनप्रतिनिधियों ने स्कूलों की दशा सुधारने के लिए कोई कदम नहीं उठाया।
पांढुर्ना विकासखंड की चार प्राथमिक शालाएं ऐसी हैं जहां एक भी शिक्षक नहीं है। ये अतिथि शिक्षकों के भरोसे चल रहे है। इनमें प्राथमिक शाला ढोलनखापा, लेंदागोंदी, काराघाट कामठी और सावजपानी माल के स्कूल शामिल हैं। इन स्कूलों में पढऩे वाले बच्चों के लिए आसपास की शालाओं के स्टॉफ को संलग्न कर व्यवस्थाएं बनाई गई है। जबकि इन शालाओं में कम से कम तीन शिक्षक होना अनिवार्य है।
ग्रामीण अभिभावकों का कहना है कि 15 साल से एक ही पार्टी की सरकार होते हुए भी शिक्षक मयस्सर नहीं है। क्षेत्रीय विधायक भी इस मुद्दे पर मुखर नहीं हैं।
भाजीपानी, उत्तमडेरा स्कूल: एक शाला एक परिसर का प्राथमिक एवं माध्यमिक स्कूल भाजीपानी और उत्तमडेरा को इतना लाभ मिला है कि यहां पहली से आठवीं कक्षा के लिए एक ही शिक्षक है। इनको कार्यालयीन कार्य भी करना पड़ता है।
इन शालाओं में एक-एक शिक्षक:
विकासखंड में 29 शालाएं ऐसी जहां मात्र एक-एक ही शिक्षक है। माध्यमिक शाला कुकडीखापा, भुयारी, टेमनीशाहनी, चिचोलीढाना, बिछुआकला, पिपलपानी, गडमउ, भाजीपानी, अंबाड़ा, उतमडेरा, ढोलनखापा, देवनालामाल, कमलनयन जामलापानी, चिखलीमाल । इसी तरह प्राथमिक शाला कोंढरमाल, हरदोली, हिवरापृथ्वीराम, बिछुआकला, गडमउ, मरकावाडा, गोविंदपुर, गुम्मुढाना, मरकावाडा माल, सोन पठार, बारीघाट, हाथी थान, ढोबन ढाना, जिक्कू ढाना में एक शिक्षक पदस्थ है।

Hindi News/ Chhindwara / हाल-ए-एजुकेशन : चार स्कूल ऐसे जहां एक भी शिक्षक नहीं, पढ़ें पूरी खबर

ट्रेंडिंग वीडियो