scriptSwachh Survekshan 2022: Now it will be written in public toilets | Swachh Survekshan 2022: अब सार्वजनिक शौचालयों में लिखा मिलेगा... धोया क्या | Patrika News

Swachh Survekshan 2022: अब सार्वजनिक शौचालयों में लिखा मिलेगा... धोया क्या

15 मार्च के बाद आ सकता है केंद्र सरकार का स्वच्छता सर्वे दल, स्वच्छ सर्वेक्षण 2022: कलेक्टर ने सभी निकायों को गहन तैयारी के दिए निर्देश

छिंदवाड़ा

Updated: March 07, 2022 11:12:52 am

छिंदवाड़ा। जनवरी से शुरू होने वाला स्वच्छ सर्वेक्षण 2022 इस वर्ष दो माह देरी से शुरू हो रहा है। इसके अंतिम चरण की तैयारियों को अंतिम रूप देने की तैयारी निगम सहित जिले के सभी 17 नगरीय निकायों ने कर ली है। जिला प्रशासन स्तर पर भी लगातार निर्देश जारी किए जा रहे हैं ताकि स्वच्छ सर्वेक्षण में जिला उत्कृष्ट प्रदर्शन कर सके। कलेक्टर सौरव सुमन द्वारा निगम एवं नगर परिषदों को स्पष्ट निर्देश जारी किए गए हैं कि अंतिम दस दिन निकायों के लिए बेहद महत्वपूर्ण हैं। 15 मार्च से केंद्र सरकार का सर्वे दल नगरीय निकायों में पहुंच सकता है।

chhindwara
chhindwara

बैनर कागज से प्रचार प्रसार नहीं
कलेक्टर ने निकायों से स्वच्छता के प्रचार-प्रसार में कागज, प्लास्टिक, बैनर, फ्लैक्स आदि का उपयोग नहीं करने के निर्देश दिए। उन्होंने स्पष्ट कहा कि यह कचरा बढ़ाने के साथ-साथ अंकों को भी कम करेगा। इसके स्थान पर वॉल पेंटिंग, होर्डिंग, म्यूरल आर्ट और आईईसी गतिविधियों के माध्यम से प्रचार-प्रसार हो। इससे वातावरण निर्माण के साथ निकाय को सकारात्मक फ ीडबैक के रूप में लाभ मिलेगा। स्वच्छ सर्वेक्षण-2022 की तैयारियों के लिए चैकलिस्ट के अनुसार निकायों को स्वआकलन करना होगा। सभी सार्वजनिक शौचालयों के अंदर की ओर धोया क्या की ब्रांडिंग लगाई जाएगी। शौचालयों के बाहरी ओर स्वच्छ सर्वेक्षण 2022 की ब्रांडिंग और व्यावसायिक विज्ञापन होना आवश्यक है।

मेरा शहर मेरी जिम्मेदारी
स्वच्छ सर्वेक्षण 2022 में अच्छे प्रदर्शन के लिए ‘मेरा कचरा-मेरी जिम्मेदारी’ की सोच पर काम करना होगा। प्रत्येक निकायों को सार्वजनिक स्थलों पर दिन में दो बार सफाई करनी आवश्यक है। सडक़ों के किनारे साफ रखने के साथ जरूरत पडऩे पर उनमें पेवर ब्लॉक लगवाने एवं निर्माण कार्य वाली जगह को कवर करना जरूरी है। ग्रीन रोड डिवाइडर के पौधों की धूल की सफाई नियमित की जानी चाहिए। सार्वजनिक स्थान, बाजार, हाट बाजार और वार्डों में घूमने वाले आवारा मवेशियों, कुत्तों आदि पर लगाम कसनी होगी। मॉर्निंग एवं इवनिंग वॉक के स्थानों की स्वच्छता पर भी ध्यान रखना होगा।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

नाम ज्योतिष: ससुराल वालों के लिए बेहद लकी साबित होती हैं इन अक्षर के नाम वाली लड़कियांभारतीय WWE स्टार Veer Mahaan मार खाने के बाद बौखलाए, कहा- 'शेर क्या करेगा किसी को नहीं पता'ज्योतिष अनुसार रोज सुबह इन 5 कार्यों को करने से धन की देवी मां लक्ष्मी होती हैं प्रसन्नइन राशि वालों पर देवी-देवताओं की मानी जाती है विशेष कृपा, भाग्य का भरपूर मिलता है साथअगर ठान लें तो धन कुबेर बन सकते हैं इन नाम के लोग, जानें क्या कहती है ज्योतिषIron and steel market: लोहा इस्पात बाजार में फिर से गिरावट शुरू5 बल्लेबाज जिन्होंने इंटरनेशनल क्रिकेट में 1 ओवर में 6 चौके जड़ेनोट गिनने में लगीं कई मशीनें..नोट ढ़ोते-ढ़ोते छूटे पुलिस के पसीने, जानिए कहां मिला नोटों का ढेर

बड़ी खबरें

ज्ञानवापी सर्वे रिपोर्ट से मंदिर-मस्जिद के सबूतों का नया अध्याय, एक्सक्लूसिव रिपोर्ट सिर्फ पत्रिका के पास, जानें क्या है इन सर्वे रिपोर्ट में...दिल्ली हाई कोर्ट से AAP सरकार को झटका, डोर स्टेप राशन डिलीवरी योजना पर लगाई रोकसुप्रीम कोर्ट का फैसला: रोड रेज केस में Navjot Singh Sidhu को एक साल जेल की सजा, जानें कांग्रेस नेता ने क्या दी प्रतिक्रियाGST पर सुप्रीम कोर्ट का बड़ा फैसला, जीएसटी काउंसिल की सिफारिश मानने के लिए बाध्य नहीं सरकारेंIPL 2022 RCB vs GT live Updates: पावर प्ले में गुजरात 2 विकेट के नुकसान पर 38 रनों पर6 साल की बच्ची बनी AIIMS की सबसे कम उम्र की ऑर्गन डोनर; 5 लोगों को दिया नया जीवनGyanvapi Masjid-Shringar Gauri Case: सुप्रीम कोर्ट में 20 मई और वाराणसी सिविल कोर्ट में 23 मई को होगी सुनवाईपंजाब कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष सुनील जाखड़ BJP में शामिल, दिल्ली में जेपी नड्डा ने दिलाई पार्टी की सदस्यता
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.