प्राचार्य समेत शिक्षक-कर्मचारी बिना सूचना मिले गायब, जानें वजह

- संकुल प्राचार्य के औचक निरीक्षण में सामने आई मनमानी

By: Dinesh Sahu

Published: 22 Nov 2020, 09:53 AM IST

छिंदवाड़ा/ शासकीय उमावि सारना संकुल अंतर्गत आने वाली कई शैक्षिक संस्थाओं में प्राचार्य समेत शिक्षक-कर्मचारियों की मनमानी चल रही है। यही वजह है कि बिना सूचना या अनुमति के स्कूलों से कई-कई दिनों से नदारत है। संकुल प्राचार्य डीपी डहरवाल द्वारा शुक्रवार को किए गए औचक निरीक्षण में उक्त लापरवाही सामने आई है।

संकुल प्राचार्य डहरवाल ने बताया कि उन्होंने शासकीय उमावि मेघासिवनी, कपरवाड़ी, सिहोरामढ़का एवं वनगांव स्कूलों का औचक निरीक्षण किया था तथा एक दिन पहले सभी प्राचार्यों की बैठक लेकर रिवीजन टेस्ट, स्कूल पहुंचने का समय, कोरोना संक्रमण को लेकर आवश्यक तैयारी करने आदि के निर्देश दिए गए थे।

इसके बावजूद शासकीय मेघासिवनी के अरविंद वर्मा बगैर अनुमति के अनुपस्थित पाए गए। हालांकि अन्य स्टाफ समय पर पहुंचा था। वहीं संस्था की प्राचार्या के. सातनकर 3 अगस्त 2020 से बिना सूचना के अनुपस्थित होना बताया गया।

शासकीय उमावि कपरवाड़ी में सुबह 11 बजे तक परीक्षा आरंभ नहीं हुई थी, जबकि शिक्षक सुनील कुमार डेहरिया और शिक्षक पंद्राम उपस्थित पाए गए। संकुल प्राचार्य डहरवाल ने बताया कि उपस्थिति पंजी में प्राचार्य रीता घई 25 सितम्बर 2020 से लगातार अनुपस्थित पाई गई। इसी तरह शासकीय सिहोरा मढ़का एवं वनगांव में नियमानुसार टेस्ट कराया जा रहे थे एवं सभी कर्मचारी समय पर उपस्थित भी मिलने पर संकुल प्राचार्य ने उचित मार्गदर्शन के साथ सराहना भी की।

Dinesh Sahu
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned