PUC centers: टीम तैयार अब पीयूसी सेंटरों की होगी जांच

जिले में संचालित पीयूसी सेंटरों की मनमानी रोकने और उनके यंत्रों की जांच करने के लिए जल्द ही एक टीम निकलने वाली है।

By: babanrao pathe

Published: 17 Sep 2020, 10:53 AM IST

छिंदवाड़ा. जिले में संचालित पीयूसी सेंटरों की मनमानी रोकने और उनके यंत्रों की जांच करने के लिए जल्द ही एक टीम निकलने वाली है। अचौक निरीक्षण किया जाएगा। लापरवाही सामने आने पर हिदायत दी जाएगी और बार-बार गलती करने पर विभाग पंजीयन निरस्त करने के लिए नोटिस भी जारी कर सकता है।

पॉल्यूशन अंडर कंट्रोल (पीयूसी) सेंटर को परिवहन विभाग के साथ ही प्रदूषण विभाग से भी अनुमति दी जाती है जिसके बाद सेंटर का संचालन किया जाता है। सेंटर से दोपहिया वाहन को छोड़कर सभी तरह के वाहनों के धुएं की मशीनों से जांच करने के बाद प्रमाण पत्र देते हैं, जिसमें इस बात का उल्लेख होता कि उक्त वाहन से अभी इतनी मात्रा में या खतरनाक धुंआ नहीं निकल रहा है जिससे की पर्यावरण को नुकसान पहुंचे। बड़े शहरों में इस सख्ती से लागू किया जा चुका है। चौक-चौराहों पर तैनात पुलिस वाहनों के दस्तावेजों के साथ ही पीयूसी से लिया गया प्रमाण पत्र जरूर देखती है। हालांकि छोटे शहरों में आज भी इस तवज्जों नहीं दिया जा रहा है, लेकिन जिस दिन प्रदूषण का स्तर बढ़ जाएगा तब छोटे शहरों में भी इसको लेकर सख्ती बरती जानी तय है। जिले में संचालित पीयूसी सेंटरों के यंत्र काम कर रहे हैं या नहीं। ग्राहकों को वाहन की जांच के बाद ही प्रमाण पत्र दिए जा रहे की नहीं जैसे अन्य कई बिन्दुओं पर जांच के लिए परिवहन आयुक्त से आदेश जारी हुए हैं। आदेश के तहत जल्द ही एक विशेष दल जिले के पीयूसी सेंटरों की जांच करने के लिए निकलेंगे।
दो विभाागों की एक टीम
अतिरिक्त क्षेत्रीय परिवहन कार्यालय एवं प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के अधिकारियों एवं कर्मचारियों को मिलाकर एक टीम का गठन किया जाएगा। टीम जिले के किसी भी पीयूसी सेंटर पर औचक जांच करने के लिए पहुंचेगी। उपकरणों की जांच करने पर किसी तरह की गड़बड़ी मिलने पर सुधार करने की समझाइश दी जाएगी, लेकिन ऐसा बार-बार मिलने पर सेंटर के पंजीयन को निरस्त करने के लिए पत्र जारी किया जाएगा। चालानी कार्रवाई करने के आदेश भी दिए गए हैं। प्रदूषण के बढ़ते स्तर को देखते हुए इस तरह की कार्रवाई करना तय किया है।

पीयूसी सेंटरों की जांच होगी
परिवहन आयुक्त कार्यालय से पीयूसी सेंटरों की जांच कर नियमानुसार संचालित हो रहे हैं या नहीं यह देखने के आदेश हुए हैं। प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड और परिवहन विभाग की संयुक्त टीम जांच करेगी।
-सुनील कुमार शुक्ला, अतिरिक्त क्षेत्रीय परिवहन अधिकारी

Show More
babanrao pathe Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned