इस बार फिर मानसून दे सकता है दगा

इस बार फिर मानसून दे सकता है दगा
weather

Prabha Shankar Giri | Updated: 03 May 2019, 09:00:00 AM (IST) Chhindwara, Chhindwara, Madhya Pradesh, India

पर्यावरण असंतुलन से गड़बड़ा रहा तापमान

छिंदवाड़ा. दक्षिण के तटीय इलाकों की ओर बढ़ रहे चक्रवात फैनी का असर मध्यक्षेत्र में भी देखने को मिल रहा है।
गुरुवार को तापमान अचानक तीन डिग्री से ज्यादा उतरकर 40 डिग्री सेल्सियस तक आ गया। चार दिन से 43-44 के बीच अटके तापमान ने क्षेत्रों को तपा कर रखा था। गुरुवार को कुछ राहत मिली। हालांकि दोपहर को गर्म हवाएं चलती रहीं, लेकिन झुलसा देने वाली तीखी धूप से कुछ निजात मिलती दिखी। मौसम विभाग ने शुक्रवार को हल्के और मध्यम बादल छाए रहने का अनुमान जताया है। आने वाले तीन चार दिनों में तापमान और एक डिग्री कम हो सकता है।
पर्यावरण असंतुलन बिगाड़ रहा है मौसम का चक्र
मौसम के बदल रहे चक्र को लेकर इन दिनों मौसम वैज्ञानिकों के साथ कृषि वैज्ञानिक और इससे जुड़े विभाग भी चिंतित नजर आ रहे हैं। पिछले तीन चार साल से पर्यावरण असंतुलन के कारण मौसम चक्र गड़बड़ा गया है। स्थानीय आंचलिक मौसम केंद्र के नोडल अधिकारी डॉ. वीके पराडकर ने बताया कि मौसम के सामान्य चक्र के अनुसार अप्रैल और मई के पहले सप्ताह में तापमान 38-39 डिग्री होना चाहिए। मई के दूसरे पखवाड़े में तापमान उच्चतम स्तर पर रहे तो तटीय इलाकों में कम दबाव का क्षेत्र बनकर मानसून अपने सामान्य हालत मेंं और समय पर आ सकता है, लेकिन ऐसा नहीं हो रहा। अप्रैल का आखिरी और मई का पहला सप्ताह खूब तप रहा है और यह तपन 15 मई के बाद तक कम हो रही है। इससे मानसून के लिए जो प्राकृतिक माहौल बनना चाहिए वह नहीं बन रहा। असमय चक्रवात का भी यही कारण है।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned