वोट प्रतिशत बढ़ाने की मशक्कत, जानिए क्या है प्लानिंग

वोट प्रतिशत बढ़ाने की मशक्कत, जानिए क्या है प्लानिंग
The difficulty of increasing the vote percentage

Prabha Shankar Giri | Updated: 13 Mar 2019, 11:04:19 AM (IST) Chhindwara, Chhindwara, Madhya Pradesh, India

स्वीप गतिविधियों से जुड़े अधिकारियों की कार्यशाला आयोजित की गई

छिंदवाड़ा. जिला प्रशासन ने लोकसभा चुनाव को लेकर जागरुकता कार्यक्रमों को तेज करने की कवायद शुरू कर रही है। इसी कड़ी में मंगलवार को कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी डॉ. श्रीनिवास शर्मा की अध्यक्षता में कलेक्टर कार्यालय के सभाकक्ष में स्वीप गतिविधियों के संचालन और क्रियान्वयन के लिए स्वीप पार्टनर एवं स्वीप गतिविधियों से जुड़े अधिकारियों की कार्यशाला आयोजित की गई।
कार्यशाला में सीइओ जिला पंचायत एवं नोडल अधिकारी स्वीप अनुराग सक्सेना, अतिरिक्त कलेक्टर एवं उप जिला निर्वाचन अधिकारी कविता बाटला, सहायक नोडल अधिकारी स्वीप एवं डीपीसी जिला शिक्षा केंद्र जीएल साहू और स्वीप पाटर्नर विभागों के अधिकारी उपस्थित थे।
कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी डॉ. शर्मा ने कार्यशाला में कहा कि लोकसभा निर्वाचन और विधानसभा उप निर्वाचन के दौरान मतदाताओं को मतदान के प्रति अधिक से अधिक जागरूक करें और जिले में शत-प्रतिशत मतदान कराएं। सीइओ जिला पंचायत एवं नोडल अधिकारी स्वीप सक्सेना ने स्वीप गतिविधियों की कार्ययोजना और क्रियान्वयन तथा अतिरिक्त कलेक्टर एवं उप जिला निर्वाचन अधिकारी बाटला ने कम मतदान प्रतिशत वाले केंद्रों में स्वीप गतिविधियां संचालित करने के संबंध में निर्देश दिए। कार्यशाला में पीडब्ल्यूडी वोटर्स के मतदान की कार्ययोजना, नवविवाहिता एवं धात्री महिला व जेंडर गेप कम करने, चुनाव पाठशाला के संचालन और बीएलओ की सक्रियता, स्वीप गतिविधियों का संचालन, अनुभव और परिचर्चा, मैदानी स्तर पर स्वास्थ्य और शिक्षा विभाग के अमले की स्वीप गतिविधियों में सहभागिता, आइटी एप्लीकेशन, सी-विजिल, सोशल मीडिया के माध्यम से स्वीप गतिविधियों का प्रचार-प्रसार, मतदाता जागरुकता क्लब, युवा मतदाता की सहभागिता आदि के सम्बंध में विस्तार से जानकारी दी। साथ ही स्वीप गतिविधियों की संक्षिप्त जानकारी वीडियो के माध्यम से प्रदर्शित की गई तथा स्वीप पाटर्नर विभागों से स्वीप गतिविधियों का फीडबैक प्राप्त किया गया।
कार्यशाला में निर्देश दिए गए कि टीम भावना से काम करें और आमन को समावेशी, सुगम, विश्वसनीय व नैतिक मतदान के लिए प्रेरित करें। इसके लिए पिछले विधानसभा चुनाव में चलाए गए सफल अभियान की तरह कार्य कर वोटर टर्नआउट बढ़ाएं। शिक्षा विभाग से बालहठ कार्यक्रम के अंतर्गत बच्चों से अपने माता-पिता को पत्र लिखवाकर मतदान के लिए प्रेरित करने, महिला एवं बाल विकास विभाग द्वारा पिंक-डे आयोजित करने और खेल एवं युवा कल्याण विभाग द्वारा खिलाड़ी चौपाल लगाने, श्रम विभाग द्वारा श्रमिक मतदाता चौपाल लगाने, जिला व्यापार एवं उद्योग केंद्र द्वारा उद्यमी संगठनों की बैठकें लेकर मतदान प्रतिशत बढाऩे आदि के निर्देश दिए गए। साथ ही पंचायत एवं सामाजिक न्याय विभाग द्वारा पीडब्ल्यूडी वोटर्स के लिए विशेष अभियान व बुर्जुग मतदाता चौपाल, पीले चावल वितरण जैसे कार्यक्रम कर देश के महा त्यौहार को सफल बनाने के लिए कहा गया।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned