बेघर हुए परिवार ने नपा से लगाई गुहार

विमलादेवी छागाणी और पार्षद नरेन्द्र ठाकुर के साथ पहुंची महिलाओं और बच्चों ने बताया कि बुधवार के दिन बच्चें पढ़ रहे थे। बस्ते और सामान को घर के बाहर फे

By: arun garhewal

Published: 10 Feb 2018, 04:51 PM IST

पांढुर्ना. नगर पालिका के अमले ह्वह्य बुधवार को राजीव नगर उर्फ फोकट नगर में बेघर किए गए परिवारों के सदस्यों ने नपा उपाध्यक्ष अरूण भोंसले के साथ नपाध्यक्ष प्रवीण पालीवाल के पास पहुंचकर आप बीती सुनाई। विमलादेवी छागाणी और पार्षद नरेन्द्र ठाकुर के साथ पहुंची महिलाओं और बच्चों ने बताया कि बुधवार के दिन बच्चें पढ़ रहे थे। बस्ते और सामान को घर के बाहर फेंका जैसे कचरा हो। जो परिवार वाले बीचबचाव में आए उनके बाल पकड़़कर उन्हें बाहर गिराया गया। इस दौरान अपने आधे परिवार के बेघर होने से नाराज कुसुम कोरडे ने बताया कि साढ़े चार साल की लम्बी लड़ाई लडऩे के बाद मुझे 600 वर्ग फिट का पट्टा शासन ने दिया है। पक्के मकान बनने से पहले पूरा परिवार झोपड़ी में रहता था। उपयंत्री अरूण कोल्हे के साथ ठेकेदार ने आकर मुझे भरोसा दिलाया था कि आप की जगह सुरक्षित रहेगी और पूरी जगह पर पक्का मकान मिलेगा जिसमें आपका परिवार आराम से रहेगा। अब हम लोग वहां चैन से रह रहे थे फिर मेरे आधे परिवार को क्यों अवैध बताकर उनका सामान फेंका गया।
नपाध्यक्ष से कुसुम कोरडे ने सवाल किया जिस मकान में मेरा परिवार रहता है वहां का कौन परिवार भला बेघर है इस बात का जवाब मुझे दिया जाए। उपाध्यक्ष भोंसले ने ज्ञापन सौंपते हुए नपा की पूरी कार्रवाई को गैरजिम्मेदाराना ठहराया। उनका कहना है कि जिस वक्त घरों में कोई पुरुष और जिम्मेदार व्यक्ति नहीं था उस समय मकानों का सामान फेंककर जोर दिखाना कहां का न्याय है? इस दौरान पूर्व पार्षद रवि बावनकर भी उपस्थित थे।
एसडीएम के पास पहुंचा नपा प्रशासन
इस पूरे वाकए के बाद नपा प्रशासन अपनी समस्या लेकर एसडीएम दीपक कुमार वैद्य के पास पहुंचा। नपाध्यक्ष प्रवीण पालीवाल, उपाध्यक्ष अरूण भोंसले, सीएमओ राजकुमार इवनाती और उपयंत्री अरूण कोल्हे ने एसडीएम के पास पहुंचकर बेघर हुए परिवारों के लिए पट्टे दिलाने की मांग की। एसडीएम ने बताया कि हाल ही में अतिक्रमण करके रहने वालों का सर्वे हुआ है जिसमें कुल 85 परिवार वालों में 50 परिवार वालों के वैध होने का प्रस्ताव बनाकर भेजा गया है। नपा प्रशासन इन परिवार वालों को भी पट्टा दिलाने में मदद करने की मांग की है। तीन परिवारों को किया शिफ्ट: नगर के शास्त्री वार्ड के पट्टेधारी तीन परिवारों को शुक्रवार के दिन संतोषी माता वार्ड स्थित फोकट नगर के खाली किए गए मकानों में शिफ्ट किया गया।

arun garhewal
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned