MP ELECTION 2018: बागियों की मान-मनौव्वल,कुछ माने तो अड़ गए ये महाशय

नाम वापसी के अंतिम दिन कलेक्ट्रेट और एसडीएम कार्यालय में दिन भर चला मान-मनौव्वल का सिलसिला

By: manohar soni

Updated: 15 Nov 2018, 03:16 PM IST


छिंदवाड़ा.विधानसभा चुनाव में नाम वापसी के अंतिम दिन बुधवार को अधिकृत प्रत्याशियों के खिलाफ खड़े निर्दलीयों को मनाने के लिए कड़ी मशक्कत करनी पड़ी। कांग्रेस और भाजपा के नेताओं का जमघट दिन भर एसडीएम और कलेक्टर कार्यालय में दिखाई दिया। मान-मनौव्वल के इस दौर में अधिकांश मान गए तो कुछ खिलाफत कर मैदान में उतर गए। छिंदवाड़ा विधानसभा में सुबह 11 बजे से दोपहर 3 बजे तक पांच उम्मीदवारों ने नाम वापस लिया। इनमें अर्चना भावरकर, केवलराम परतेती, जफर अली, धर्मेन्द्र साहू, सुनील शामिल है। चौरई से हरिओम वर्मा और शिवदयाल वर्मा ने अपने नामांकन वापस ले लिए। परासिया से भाजपा समर्थित माने जानेवाले तुकाराम दुर्गे,चंदन अहिरवार और राजेश नागवंशी ने फार्म वापिस लिया। अमरवाड़ा से एकमात्र सुगमलता ने भी अपनी उम्मीदवारी वापस ले ली। सौंसर से संदीप भकने,रेशमराव पाठे और रमेश पाटिल भी वापस हो गए। जुन्नारदेव से अरूण परते, कल्पना सल्लाम, बरखा उइके, माठू सिरसाम और रामभरोस सोलंकी ने नामांकन वापस ले लिया।
......
पूर्व विधायक कवडे़ती की बगावत
पांढुर्ना के पूर्व भाजपा विधायक रामराव कवड़ेती निर्दलीय के रूप में चुनाव मैदान में आ गए हैं। उन्होंने बुधवार को नाम वापसी के अंतिम दिन फार्म नहीं उठाया। वे वर्ष 2008 में भाजपा से विधायक निर्वाचित हुए थे। पार्टी ने 2013 के बाद 2018 में टिकट नहीं दिया। इससे कवड़ेती लम्बे समय से नाराज थे। नाम वापसी के अंतिम दिन उन्होंने फोन तक बंद रखा। परासिया में भी भाजपा समर्थित संतोष डेहरिया का फार्म नहीं उठ पाया।
....
चौरई के भाजपा-कांग्रेस नेताओं में बहस
चौरई में नाम वापसी के बाद इलेक्ट्रानिक वोटिंग मशीन में उम्मीदवारों के नाम सेट करने की बारी आई तो कांग्रेस के सुजीत सिंह चौधरी और भाजपा के पं.रमेश दुबे के समर्थक नेता एक-दूसरे से आगे निकलने की होड़ में रिटर्निंग ऑफीसर के क क्ष में भिड़ गए। दोनों ने अपने नियम-कानून के जानकारों को बुला लिया। कांग्रेस पक्ष का कहना था कि चौधरी सुजीत सिंह के नाम से उनका नाम अल्फाबेटिकल में पहले आना चाहिए। भाजपा नेताओ का कहना रहा कि शपथपत्र में केवल सुजीत सिंह चौधरी नाम दिया गया है। यह नाम एस से शुरू होता है। जबकि रमेश दुबे का नाम आर से होने से पहले आता है। इस पर रिटर्निंग ऑफीसर ने नियम बताकर उन्हें शांत कराया।
....
सौंसर में उम्मीदवार ज्यादा,दो लगेंगी मशीनें
सौंसर विधानसभा में तीन नाम वापसी के बाद 20 उम्मीदवार मैदान में रह गए हैं। इससे यहां दो इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीनें लगानी पड़ेंगी। एक मशीन में 15 उम्मीदवार के नाम और 16 वां बटन नोटा का होता है। जिले में सबसे ज्यादा उम्मीदवार इसी विधानसभा से खड़े हुए हैं। शेष स्थानों पर एक मशीन का ही उपयोग होगा।
....

manohar soni Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned