ट्रेन में जवान फिर भी हो रही चेन पुलिंग

पालातकोट और पेंचवैली में रोजाना परेशान हो रहे यात्री

By: prashant sahare

Published: 22 Aug 2017, 05:42 PM IST

छिंदवाड़ा . अगर आपको कोई इमरजेंसी है, जल्दी छिंदवाड़ा पहुंचना है और आप ट्रेन में सवार हैं तो यह भूल जाइए की आप समय से स्टेशन पहुंच जाएंगे। क्योंकि ट्रेन में सवार असामजिक तत्त सफर में व्यवधान डाल रहे हैं। परासिया से छिंदवाड़ा रेलवे स्टेशन तक पहुंचने में ट्रेनों को काफी देरी हो रही है। इसकी वजह है तीन से चार बार चेन पुलिंग की जाना है। जिससे ट्रेन ३० से ४० मिनट तक प्रभावित हो रही है। गुलाबरा निवासी संतोष ने बताया कि सोमवार सुबह वह पेंचवैली पैसेंजर से छिंदवाड़ा आ रहे थे। एसएएफ के पास चेन पुलिंग कर दी गई।

 

इसके बाद दो बार और चेन पुलिंग हुई। रास्ते में गार्ड द्वारा ही इसे सुधारा गया। यहां सुरक्षा की दृष्टि से जीआरपी न ही आरपीएफ का जवान मिला। ट्रेन में यात्रियों की सुरक्षा का जिम्मा जीआरपी पर है और चेन पुलिंग की कार्रवाई आरपीएफ के जिम्मे। चेन पुलिंग करने वालों पर कार्रवाई हो तो रेल को काफी हानि से बचाया जा सकता है, लेकिन परासिया आरपीएफ के कार्रवाई न किए जाने से चेन पुलिंग बढ़ती जा रही है। दरअसल, छिंदवाड़ा आउटर तक का क्षेत्र परासिया आरपीएफ का है।


होता है काफी नुकसान
चेन पुलिंग से पटरी और ट्रैक में घर्षण होता है इससे काफी नुकसान होता है। इसके अलावा ट्रेन में बैठे यात्रियों को झटका लगता है, वे घायल भी हो सकते हंै।


दो हजार का जुर्माना, छह महीने की सजा
रेलवे अधिनियम १४१ के तहत चेन पुलिंग करने पर अधिकतर दो हजार रुपए का जुर्माना एवं छह माह की सजा का प्रावधान है। बिना किसी वजह के चेन पुलिंग करना बड़ा अपराध है।

छात्रा से छेड़छाड़ का मामला दर्ज
छिंदवाड़ा . कोतवाली थाना क्षेत्र में मामा के पास रहकर कक्षा दसवीं की पढ़ाई करने वाली छात्रा के साथ सोमवार दोपहर सिवनी निवासी युवक ने छेड़छाड़ की। छात्रा ने परिजन के साथ कोतवाली पहुंचकर शिकायत दी। कोतवाली पुलिस के अनुसार छात्रा घर के आंगन में बैठकर पढ़ाई कर रही थी तभी सिवनी निवासी सहवाज वहां पहुंचा। छात्रा के साथ छेड़छाड़ की। नाबालिग ने शोर मचाया तो वह भाग गया। बताया जा रहा है कि छात्रा मूल रूप से सिवनी की निवासी है।

prashant sahare
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned