इन हेल्थ सेंटरों में मिलेंगी यह सुविधाएं, आधुनिक होगी व्यवस्थाएं

इन हेल्थ सेंटरों में मिलेंगी यह सुविधाएं, आधुनिक होगी व्यवस्थाएं

Dinesh Sahu | Publish: Aug, 07 2018 12:08:20 PM (IST) Chhindwara, Madhya Pradesh, India

सहूलियत : 15 अगस्त से होगी दो केंद्रों की शुरुआत, जिले के सात पीएचसी में बनेंगे हेल्थ वेलनेस सेंटर

छिंदवाड़ा. राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन अंतर्गत जिले के 67 पीएचसी (प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र) जल्द ही अपग्रेड होकर हेल्थ वेलनेस सेंटर कहलाएंगे। 15 अगस्त से प्रदेशभर में इनकी शुरुआत होगी। हालांकि शुरुआत में छिंदवाड़ा जिला अंतर्गत पिंडरईकलां और बोरगांव केंद्र प्रारम्भ होंगे तथा शेष धीरे-धीरे अपग्रेड किए जाएंगे। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. जेएस गोगिया ने बताया कि हेल्थ वेलनेस सेंटर भोपाल से भेजे गए प्रारूप के आधार पर तैयार होंगे।

इसमें क्षेत्रीय भाषा तथा पारम्परिक व्यवस्थाओं की कला-कृतियों का चित्रण किया जाएगा। दरअसल प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र अर्बन पीएचसी, सिविल डिस्पेंसरी को हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर के रूप में विकसित किया जा रहा है। इसमें जिले के 67 पीएचसी केंद्रों का नाम बदलकर सेहत एवं सुकून केंद्र हो जाएगा। जिले के चिह्नित 67 पीएचसी केंद्रों को हब एंड स्पोक्स मॉडल पर आधारित प्रभावी रेफरल यूनिट बनाया जाएगा।


केंद्र में पहुंचने वाले पीडि़तों को 12 प्रकार की चिह्नित चिकित्सा सुविधाएं मुहैया कराई जाएंगी। इसमें असंचारी रोग, डायबिटीज, हाइपरटेंशन, हार्ट रोग आदि का परीक्षण और प्राथमिक उपचार प्रदान किया जाएगा।


स्टाफ को दिया जाएगा प्रशिक्षण...

जिले में तैयार होने वाले हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर के संचालन के लिए स्वास्थ्य अमले को आवश्यक प्रशिक्षण दिया जाएगा। इसमें चिकित्सा अधिकारी, स्टाफ नर्स, एएनएम तथा आशा कार्यकर्ताएं शामिल हैं।


इन केंद्रों में शुरू होंगे हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर


विकासखंड पीएचसी संख्या
छिंदवाड़ा पांच
मोहखेड़ पांच
तामिया चार
परासिया सात
जुन्नारदेव आठ
सौंसर ग्यारह
बिछुआ पांच
पांढुर्ना आठ
अमरवाड़ा चार
चौरई पांच
हर्रई पांच

 

आइएमए ने स्तनपान का बताया लाभ


इंडियन मेडिकल एसोसिएशन के पदाधिकारियों ने सोमवार को स्तनपान जागरुकता सप्ताह के दौरान जिला अस्पताल में संचालित नर्सिंग छात्रावास में कार्यशाला का आयोजन किया गया। डॉ. शोभा मोइत्रा की अध्यक्षता में आइएमए उपाध्यक्ष डॉ. अल्पना शुक्ला, डॉ. समता मलिक ने नर्सिंग स्टूडेंट तथा स्टाफ को स्तनपान के लाभ, सही तरीका तथा अन्य जानकारी विस्तृत रूप से दी। डॉ. ममता आनदेव तथा डॉ. रंजना टांडेकर ने स्तनपान में आने वाली परेशानियां व उनके निदानों के बारे में बताया।

 

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned