यह मुहिम रोक सकती है पर्यावरण का बिगड़ा संतुलन

शहर के पर्यावरणविद और समाजसेवी बीजरोपण से नए प्लांटेशन की तैयारी के लिए उत्साहित हैं

By: prabha shankar

Published: 16 Jun 2019, 09:00 AM IST

छिंदवाड़ा. शहर समेत जिले में शनिवार को हुई बारिश ने हर खासो-आम को राहत दी है। इसके बाद शहर के पर्यावरणविद और समाजसेवी बीजरोपण से नए प्लांटेशन की तैयारी के लिए उत्साहित हैं तो वहीं नगर निगम भी अपने कचरा वाहन में घरों से निकलन ेवाली आम की गुठलियों के लिए अलग बॉक्स लगाएगा। इन गुठलियों को खाली जमीन पर लगाया जाएगा।

आसमान से बादलों की बूंद गिरने के बाद हर किसी के मन में विश्व पर्यावरण दिवस पर धरती को हरा-भरा करने के संकल्प को पूरा करने की ललक जागी है। इस बार गर्मी के 46 डिग्री तक पहुंचे तापमान ने हर किसी को चिंता में डाला है। इससे निजात पाने के लिए शहरवासियों ने अलग-अलग फोरम पर काम करने की बात कही है।
शहर के पर्यावरणविद् रिटायर्ड एसडीओ वन रवीन्द्र सिंह और विजय सिंह कुसरे ने बताया कि पहली बारिश होने के बाद बीजरोपण करने की सम्भावनाएं बन गई हैं। आम की गुठलियों के साथ शमी, आम, असगंध, नीम समेत अन्य फलदार पेड़ों के बीजों को जमीन पर लगाना चाहिए। खासकर इस मौसम में हर घर में आम का उपयोग हो रहा है। इन आम की गुठलियों को कचरे में न फेंककर उसे खाली पड़ी जमीन पर लगाना चाहिए। इससे नए प्लांटेशन तैयार होंगे। उन्होंने कहा कि पत्रिका द्वारा रविवार को सुबह छह बजे धरमटेकड़ी के नीचे कालीबाड़ी के समीप स्टॉपडैम में आयोजित अमृतं जलम् अभियान में सहभागी बनकर बीजों का रोपण भी किया जाएगा।


हर कचरा वाहन से एकत्र होंगे बीज
इस बीजरोपण अभियान को लेकर नगर निगम उत्साहित है। निगम आयुक्त इच्छित गढ़पाले ने स्वच्छता अधिकारी-कर्मचारियों को हर कचरा वाहन में अलग से बॉक्स लगाने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने बताया कि आम की गुठलियों समेत मौसमी फलों के बीज को हर घर से एकत्र किया जाएगा और उससे निगम की नर्सरी समेत अन्य स्थलों पर प्लांटेशन तैयार किया जाएगा। इसकी तैयारियां निगम ने पूरी कर ली है।
उनके मुताबिक इस बारिश में प्लांटेशन लगाने की कार्ययोजना तैयार कर ली गई है। इस बार 50 हजार पौधे अकेले निगम लगवाएगा। इनमें 30 हजार पौधे निगम की नर्सरी तथा 20 हजार वन विभाग की नर्सरी से लिए जाएंगे।

prabha shankar Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned