Highway: जिले के हाईवे पर घाटी वाले सेक्शन में मिलेगी यह सुविधा

नेशनल हाईवे पर होने वाली दुर्घटना में घायल हो अस्पताल तक पहुंचाने के लिए एम्बुलेंस की व्यवस्था ठेकेदार को करनी होती है जिसे एनएचएआई ठेका देती है।

By: babanrao pathe

Published: 29 Jun 2020, 12:33 PM IST

छिंदवाड़ा. नेशनल हाईवे पर होने वाली दुर्घटना में घायल हो अस्पताल तक पहुंचाने के लिए एम्बुलेंस की व्यवस्था ठेकेदार को करनी होती है जिसे एनएचएआई ठेका देती है। घाटी में वाहन खराब हो जाए तो उसे खींचकर बाहर लाने या फिर बाजू में करने के लिए क्रेन भी होनी चाहिए। जरूरी वाहन चौबीस घण्टे मौजूद रहने चाहिए।

नागपुर-छिंदवाड़ा नेशनल हाईवे पर सिल्लेवानी की घाटी में पिछले कुछ माह से एम्बुलेंस नहीं थीं। दो क्रेन खड़ी नजर आती, लेकिन उसमें भी एक बंद पड़ी मिली थी। सम्बंधित थाना या फिर चौकी पुलिस को ही सारे इंतजाम करने होते हैं। पिछले दिनों पुलिस अधिकारी ने औचक निरीक्षण किया तो यहां के हालात सामने आए। एनएचएआई के प्रोजेक्ट डायरेक्टर से पत्राचार करने के साथ ही मौखिक चर्चा की जिसके बाद सिल्लेवानी की घाटी में एक एम्बुलेंस, एक क्रेन और एक पेट्रोलिंग वाहन खड़ा किया गया है। इसके लिए ट्रैफिक डीएसपी सुदेश कुमार सिंह ने प्रोजेक्ट डायरेक्टर को तीन बार पत्र लिखकर अव्यवस्थाओं से अवगत कराया। फोन पर मौखिक चर्चा की जिसके बाद पिछले दिनों वाहनों की व्यवस्था की गई। इसके अलावा छिंदवाड़ा, अमरवाड़ा, नरसिंहपुर रोड, मुलताई, छिंदवाड़ा एवं सिवनी रोड पर भी वाहनों की व्यवस्था की गई है। बताया जा रहा है कि बारिश के चलते ही पुलिस ने भी इस तरफ ध्यान दिया है। नेशनल हाईवे के नियम में इस तरह के वाहनों की व्यवस्था करना भी तय किया गया है। इसके बाद भी लापरवाही खुलकर बरती जाती है।

कहां क्या किए इंतजाम
ट्रैफिक डीएसपी सुदेश कुमार सिंह के मुताबिक छिंदवाड़ा, सौंसर, सावनेर एवं छिंदवाड़ा रिंग रोड के लिए सिल्लेवानी की घाटी में एक क्रेन, एक एम्बुलेंस एवं पेट्रोलिंग वाहन लगाया जा चुका है। छिंदवाड़ा, अमरवाड़ा और नरसिंहपुर नेशनल हाईवे के लिए जुंगावानी टोल के पास एक के्रन, एक एम्बुलेंस, जैतपुर टोल के पास एक क्रेन, एक एम्बुलेंस एवं एक पेट्रोलिंग वाहन लगाया जा चुका है। इसके अलावा मुलताई, छिंदवाड़ा एवं सिवनी नेशनल हाईवे पर चिखलीकला के पास एक क्रेन एवं एक एम्बुलेंस। फुलारा टोल टैक्स के पास एक एम्बुलेंस एवं क्रेन और पेट्रालिंग वाहन लगाए जा चुके हैं। डीएसपी सुदेश कुमार सिंह ने बताया कि नेशनल हाईवे पर इस तरह के इंतजाम करने की जिम्मेदारी एनएचएआई की होती है, या फिर नेशनल हाईवे से जिन्होंने ठेका लिया है उनकी जिम्मेदारी रहती है। इस सड़क से गुजरने वाले प्रत्येक वाहन से टोल टैक्स लिया जाता है जिसके सड़क की मरम्मत और अन्य इंतजाम करना शामिल होता है।

Show More
babanrao pathe Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned