डॉक्टरों के बर्ताव से सख्त हुए कलेक्टर, दिए यह निर्देश

डॉक्टरों के बर्ताव से सख्त हुए कलेक्टर, दिए यह निर्देश

Dinesh Sahu | Updated: 27 May 2019, 12:02:31 PM (IST) Chhindwara, Chhindwara, Madhya Pradesh, India

कलेक्टर ने किया हस्तक्षेप, सिविल सर्जन को दिए निर्देश

छिंदवाड़ा. शासकीय मेडिकल कॉलेज से सम्बद्ध जिला अस्पताल में कार्यरत डॉक्टर की बेरुखी की वजह से विगत कई महीनों से भटक रहे रितेश को शीघ्र ही राहत मिल जाएगी। मामले में कलेक्टर भरत यादव ने सिविल सर्जन डॉ. सुशील राठी को पीडि़त की मदद करने तथा आवश्यक उपचार दिलाने के निर्देश दिए है। जिला अस्पताल की व्यवस्थाओं का जायजा लेने शनिवार को पहुंचे कलेक्टर यादव ने इस संदर्भ में अवगत कराया तथा मरीजों को अनावश्यक रूप से परेशान करने वाले डॉक्टरों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने का आश्वासन दिया है।

 

उल्लेखनीय है कि परासिया विकासखंड के ग्राम रावनवाड़ा निवासी रितेश पिता रमेश निमोतिया गंभीर रोग से पीडि़त है। जिला अस्पताल में वह पिछले चार माह से उपचार करा रहा है, लेकिन अब तक उसे आराम नहीं लगा। परिवार की माली हालत की वजह से वह उच्चस्तरीय उपचार कराने में असक्षम है। इसके बावजूद डॉक्टर उसे बाजार में मिलने वाली दवाइयां लिखते है। पीडि़त रितेश ने कई बार डॉक्टर से निवेदन किया, लेकिन उसकी कोई सुनवाई नहीं हुई।

 

अमानवीयता इतनी कि डॉक्टर उसे घर जाने अथवा मरने की सलाह दे देते है। पत्रिका ने प्रमुखता से समाचार प्रकाशित कर जिम्मेदार डॉक्टरों का वास्तवितक चेहरा सामने लाने का प्रयास किया, लेकिन इससे पहले ही कलेक्टर यादव ने मामले में गंभीरता दिखाई और मरीज को राहत दिलाने के निर्देश दिए है।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned