मुख्यमंत्री को सूची भेजेंगे प्रशिक्षित गो-सेवक

प्रशिक्षित गो-सेवक संघ की बैठक में लिया गया निर्णय

By: Rajendra Sharma

Published: 03 Dec 2019, 08:10 AM IST

छिंदवाड़ा/ मप्र गो-सेवक संघ की छिंदवाड़ा इकाई की बैठक सोमवार को दीनदयाल पार्क छिन्दवाड़ा में आयोजित की गई। बैठक में मुख्य अतिथि मप्र राज्य कर्मचारी संघ के अध्यक्ष डॉ. एमके मौर्य एवं पूर्व अध्यक्ष भारतीय मजदूर संघ तुकाराम दुर्गे की विशेष उपस्थिति रही। बैठक में जिलाध्यक्ष संजय सूर्यवंशी, उपाध्यक्ष अशोक कुमार बुनकर ने बताया कि प्रशिक्षित गो-सेवक पिछले 20 वर्षों से पशुओं का उपचार कर नि:शुल्क सेवाएं दे रहे हैं। प्रशिक्षित गौसेवक संघ विगत 20 वर्षों से पंचायत में नियुक्ति एवं निश्चित मानदेय की मांग सरकार से लगातार कर रहा है। विगत विधानसभा चुनाव के पूर्व कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष कमलनाथ ने वर्ष 2018 में कांग्रेस की सरकार बनने पर प्रशिक्षित गो-सेवकों को निश्चित मानदेय देने व ग्राम पंचायत में ग्राम प्रशासनिक पद पर नियुक्ति देने के लिए वचन-पत्र में 5.15 पशुपालन एवं डेयरी विकास में वचन दिया था। किन्तु कांग्रेस सरकार बनने के एक वर्ष बाद भी प्रशिक्षित गो-सेवकों की मांग पर ध्यान नहीं दिया गया। अत: प्रशिक्षित गो-सेवक अपनी मांगों को लेकर प्रयासरत हैं एवं जिलेभर के गो-सेवकों ने सोमवार विस्तार से चर्चा की एवं सक्रिय गो-सेवकों की सूची बनाकर प्रदेश अध्यक्ष के माध्यम से पशुपालन मंत्री लाखन सिंह यादव के द्वारा मुख्यमंत्री कमलनाथ को सौंपने का निर्णय लिया। बैठक के दौरान मांग उठी कि प्रशिक्षित सक्रिय गो-सेवकों को मप्र सरकार राजपत्र में शामिल कर पंचायत में नियुक्ति प्रदान करें। इस अवसर पर जिला सचिव प्रमोद टेकरे, सहसचिव कैलाश हर्षे, कोषाध्यक्ष जगतराम उसरेठे, रामेश्वर साहू, अजय वर्मा, रामकृष्ण जावरे, दीना सिंह चौरिया, नरेश विश्वकर्मा, मेहताब वर्मा, संत कुमार वर्मा, धर्मेन्द्र सिंह रघुवंशी, नीरज चौहान आदि उपस्थित थे।

Show More
Rajendra Sharma Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned