कुण्डीपुरा थाना के आगे मौत बनकर खड़े रहते हैं ट्रक

कुण्डीपुरा थाना से सिवनी रोड पर चंद कदम की दूरी तय करने के बाद का नजारा चौंकाने वाला होता है।

छिंदवाड़ा. कुण्डीपुरा थाना से सिवनी रोड पर चंद कदम की दूरी तय करने के बाद का नजारा चौंकाने वाला होता है। पुलिस की नजरों के सामने सडक़ के दोनों हिस्सों पर ट्रक की लम्बी कतार मौत बनकर चौबीसों घण्टे खड़े रहते हैं। सिवनी की तरफ से आने और छिंदवाड़ा से जाने वाली दोनों ही लेन पूरे समय वनवे की तरह रहती है, जिसके कारण हर रात यहां दुर्घटना हो रही है। थाना के अंदर से निकलते ही ट्रकों की कतार दिखाई देती हैं।

चौपाल सागर तक सडक़ के दोनों हिस्सों में खड़े ट्रकों के कारण हर रात बाइक सवार दुर्घटना का शिकार होते हैं। बंद हालत में खड़े वाहनों में रेडियम भी नहीं लगा होता, जिसके कारण सडक़ पर खड़े वाहनों की कतार नजर नहीं आती। बाइक सवार और कई बार चौपहिया वाहन भी इनसे टकराने के बाद दुर्घटनाग्रस्त होते हैं। जनवरी माह से अब तक इसी क्षेत्र में दुर्घटना के कारण पांच मौतें हो चुकी है। आस-पास के क्षेत्र में गोदाम होने के कारण ट्रक माल खाली करने के बाद चालक ट्रक को सडक़ के करीब में खड़े कर घर चले जाते हैं। कुछ चालक भी वहीं रहते हैं जिसके कारण वे सडक़ को पार्र्किंग के रूप में इस्तेमाल करते हैं। यह स्थिति लम्बे समय से बनी हुई है जिसका स्थानीय समाधान पुलिस ने आज तक नहीं किया है, जबकि इस रास्ते पर चलने वाले अन्य वाहन चालक भी कई बार सडक़ पर खड़े बड़े वाहनों का विरोध कर चुके हैं।

सात गाडिय़ों पर की कार्रवाई

ट्रैफिक डीएसपी सुदेश कुमार सिंह का कहना है कि कुण्डीपुरा थाना के आगे सडक़ पर खड़े रहने वाले ट्रकों को हटाने की प्रक्रिया शुरू कर दी गई है। सात गाडिय़ों के चालक पर खतरनाक तरीके से वाहन खड़ा करने का प्रकरण दर्ज किया गया है। आगे भी इस तरह की कार्रवाई जारी रहेगी, इसके बाद भी सुधार नहीं हुआ तो वाहन के मालिक और चालक के खिलाफ आपराधिक प्रकरण दर्ज कर न्यायालय में पेश किया जाएगा। स

Show More
babanrao pathe
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned