जलमग्न हुई कोरोना की ट्रू-नॉट लैब...ऐसे करनी पड़ी जांच, जानें स्थिति

- पुरानी बिल्डिंग की भी टपक रही छतें

By: Dinesh Sahu

Updated: 30 Aug 2020, 02:51 PM IST

छिंदवाड़ा/ लगातार हो रही बारिश की वजह से जिला अस्पताल की ट्रू-नॉट लैब समेत परिसर में बारिश का पानी भर गया, जिसकी वजह से तलैया जैसे स्थिति बन गई। हालांकि लैब में कोरोना वायरस की जांच की जा रही है। इतना ही नहीं पुरानी बिल्डिंग में स्थित विभिन्न विभागों की छतों से भी पानी टपक रहा था। बताया जाता है कि प्रसूता विभाग के लिए बनाए गए विशेष कोरोना विभाग के बुरे हाल है, यहां थोड़ी सी बारिश होने और निकासी नहीं होने से पानी भर जाता है। विभाग के सफाई कर्मचारियों ने मशक्कत कर पानी को बाहर कर सफाई की है।


465 स्वाव सेम्पलों को लैब ने किया रिजेक्ट

कोविड-19 वायरस संक्रमण की जांच के लिए अब तक भेजे गए 17 हजार 50 में से 16 हजार 595 की रिपोर्ट नेगेटिव आई है, जबकि 465 सेम्पल लैब ने रिजेक्ट कर दिए है। वहीं 455 सेम्पल की जांच रिपोर्ट आना शेष है तथा अब तक कुल पॉजिटिव मरीजों में से 335 स्वस्थ हो चुके है। सीएमएचओ डॉ. जीसी चौरसिया ने बताया कि अब तक जिले में अन्यत्र क्षेत्रों से 55 हजार 598 लोग पहुंचे, जिनका स्वास्थ्य परीक्षण किया गया है।

COVID-19
Show More
Dinesh Sahu
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned