पहले पिता ने फिर बेटे ने तोड़ा दम, सहम गया पूरा गांव

परिजन ने बताया कि दोनों बीते कुछ दिनों से बीमार थे, सही इलाज न मिलने से मौ हुई

By: prabha shankar

Published: 14 Nov 2017, 10:48 AM IST

छिंदवाड़ा. सांवरी चौकी अंर्तगत ग्राम पाठाकरला में उचित इलाज के अभाव में पिता-पुत्र दोनों की मौत हो गई। वे पीलिया से पीडि़त थे।
मिली जानकारी के अनुसार पाठाकरला निवासी दुबेलाल धुर्वे और पुत्र रोहित धुर्वे बीते कुछ दिनों से बीमार चल रहे थे। वे पीलिया से ग्रसित थे। उचित इलाज न मिल पाने के कारण पिता ने सोमवार को दोपहर करीब १२ बजे दम तोड़ दिया। पिता के मौत की खबर सभी रिश्तेदारों को दी गई तो जमा हो गए। इसी बीच पुत्र रोहित धुर्वें की तबीयत भी बिगडऩे लगी। परिजन उसे सांवरी के निजी क्लीनिक लेकर गए, लेकिन क्लीनिक बंद मिला। शाम करीब पांच बजे पुत्र ने भी क्नीनिक के बाहर ही दम तोड़ दिया।
बताया जाता है कि दुबे लाल खेती किसानी करते थे और उनका परिवार अर्थिक तंगी से जूझ रहा था। उपस्वास्थ्य केंद्र में सही इलाज और जानकारी न मिल पाने से उनकी स्थिति लगातार बिगड़ती गई।


डॉक्टर पर परिजन ने लगाए आरोप
सावरी बाजार. वहीं मृतक रोहित के जीजा का आरोप है कि सांवरी के एक निजी क्लीनिक में रोहित को ले जाया गया था जहां उसे इंजेक्शन लगाया गया। इसके बाद उसकी तबीयत और ज्यादा बिगड़ गई। कुछ ही देर में उसने दम तोड़ दिया।

तीन दिवसीय कार्यशाला कल से
छिंदवाड़ा. डिप्लोमा होल्डरों के लिए स्वरोजगार अवसर के लिए एक वर्कशॉप का आयोजन इंदिरा गंाधी शासकीय पॉलीटेक्निक महाविद्यालय द्वारा आयोजित किया जा रहा है। उक्त विषय पर तीन दिवसीय कार्यशाला 15 से 17 नवम्बर तक सुबह दस बजे से शाम पांच बजे तक आयोजित की जाएगी। उद्घाटन कार्यक्रम शास. स्व. स्नातकोत्तर महाविद्यालय के प्राचार्य डॉ यूके जैन एवं पॉलीटेक्निक महाविद्यालय खिरसाडोह के प्राचार्य रोहित शाह क ी मौजूदगी में १५ नवम्बर को सुबह साढ़े दस बजे से आयोजित होगा। कार्यशाला के समापन पर प्रमाण पत्र का वितरण विधायक एवं जनभागीदारी समिति अध्यक्ष चंद्रभान सिंह चौधरी द्वारा होगा।

prabha shankar
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned