लाइब्रेरी भवन में होगा विश्वविद्यालय का संचालन, जानिए क्या है वजह

लाइब्रेरी भवन में होगा विश्वविद्यालय का संचालन, जानिए क्या है वजह

Ashish Kumar Mishra | Publish: Aug, 08 2019 01:51:59 PM (IST) Chhindwara, Chhindwara, Madhya Pradesh, India

अत्याधुनिक लाइब्रेरी की राह देख रहे विद्यार्थियों को इसका लाभ नहीं मिल पाएगा।

 

छिंदवाड़ा. पीजी कॉलेज में जल्द ही अत्याधुनिक लाइब्रेरी भवन बनकर तैयार हो जाएगी। हालांकि लंबे समय से अत्याधुनिक लाइब्रेरी की राह देख रहे विद्यार्थियों को इसका लाभ नहीं मिल पाएगा। उच्च शिक्षा विभाग ने अस्थाई तौर पर छिंदवाड़ा विश्वविद्यालय के प्रशासनिक कार्यों के संचालन के लिए लाइब्रेरी भवन को अलॉट कर दिया है। पीआईयू जल्द ही शेष कार्यों को पूरा करके इसे छिंदवाड़ा विश्वविद्यालय को हैंडओवर कर देगी। गौरतलब है कि वर्ष 2014 में उच्च शिक्षा विभाग मद से पीजी कॉलेज में अत्याधुनिक लाइब्रेरी भवन निर्माण कार्य शुरु किया गया था। भवन के लिए विभाग ने 1 करोड़ 55 लाख रुपए की राशि मंजूर की गई थी। हालांकि निर्माण कार्य में लेटलतीफी के चलते बजट कम पड़ गया। पीआईयू ने शेष कार्य को पूरा करने में असमर्थता दिखाई। इसके पश्चात पीजी कॉलेज प्रबंधन ने विभाग से दोबारा राशि की डिमांड की। लगभग दो साल तक मामला ठंडे बस्ते में रहा।


दो माह पहले रूसा मद से राशि हुई मंजूर
लाइब्रेरी भवन के अधूरे कार्यों को पूरा करने के लिए उच्च शिक्षा विभाग ने रूसा मद से 48 लाख 91 हजार रुपए की राशि मंजूर की। भवन में लगभग 95 प्रतिशत कार्य पूरा हो चुका है। पीआईयू द्वारा शेष कार्यों को जल्द ही पूरा कर लिया जाएगा। इसके पश्चात भवन छिंदवाड़ा विवि को सौंप दिया जाएगा।


पत्र मिल चुका है
उच्च शिक्षा विभाग आयुक्त का पत्र मिल चुका है। अस्थाई तौर पर छिंदवाड़ा विवि का संचालन के लिए लाइब्रेरी भवन दे दिया गया है।
डॉ. गोपाल जायसवाल, प्राचार्य, पीजी कॉलेज

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned