सुबह गुरैया में जमा था आधा शहर

पुलिस को आकर कराना पड़ा अनाउंसमेंट

छिंदवाड़ा / शहर में लाकडाउन को दो दिन हुए है लेकिन 48 घंटों में ही जनता का बेसब्र होती दिखाई दे रही है। तय समय के लिए लोगों को सामान खरीदने के लिए छूट देने के बावजूद भी लोग उतावले होते दिख रहे हैं। मंगलवार की सुबह साढ़े दस बजे गुरैया स्थित थोक सब्जी मंडी का नजारे ने फिर प्रशासन को चिंता में ला दिया। यहां मंडी सुबह शुरू हुई। दरअसल शहर में आम लोगों को सब्जियों की किल्लत न हो इसके लिए प्रशासन ने थोक सब्जी व्यापारियों और किसानों को शहर के चिल्लत व्यापारियों को सब्जी देने के लिए सुबह दस बजे से बारह बजे तक मंडी खोलने का समय दिया था। लोगों को जैसे ही यह पता चला वे भी अपना थैला लेकर और पड़ोसियों और परिवारजनों को लेकर मंडी पहुंच गए। देखते-देखते इस मंडी में आम दिनों के जैसे ही जमावड़ा हो गया। सब्जी बाजार में व्यापारियों से ज्यादा तो लोग चिल्लर में किलो दो किलो सब्जियां खरीदते दिखे। कुछ लोग तो प्याज और आलू के कट्टे और टमाटर के केरेट ले जाते दिखे। मंडी के कर्मचारी भी यहां तैनात थे लेकिन वे किसे रोकते। किसी ने इसकी सूचना पुलिस को दी। पुलिस अधिकारी 11 बजे मंडी पहुंचे और यहां अनाउंसमेंट किया कि थोक व्यापारी लोगों को एक दो किलो सब्जियां न दें सिर्फ चिल्लर सब्जी विक्रेता जो बीस पच्चीस किलो सब्जी ले रहे हैं उन्हें ही दें। दोपहर 12 बजे व्यापारियों से कामकाज बंद कर अपनी दुकानें बंद करने लगातार मंडी कार्यालय से भी अनाउंसमेंट किया जाता रहा। मंडी बंद होते-होते साढ़े बारह से एक बजे गया।
समझदार बने जनता- एसडीएम

एसडीएम अतुलसिंह ने कहा कि बार-बार अनाउंसमेंट कर लोगों को समझाया जा रहा है कि भीड़ न बढ़ाएं और ऐसी जगहों पर भी न जाएं। जनता को खुद समझदार बनाना चाहिए। दोपहर को दो घंटे का समय उन्हें दिया जा रहा है। लोगों को जरूरतमंद की चीजें उपलब्ध हो इसमें कमी न हों इसलिए मंडी में दो घंटे व्यापारियों को दिए गए हैं। प्रशासन यदि सख्त हुआ तो और मंडी बंद करना पड़ी तो सब्जी भाजी के लिए और परेशानी हो जाएगी। सिंह ने कहा कि बुधवार को इस बार पर नजर रखी जाएगी कि मंडी में सिर्फ चिल्लत विक्रेताओं को ही सब्जियां मिले और वे ही यहां आएं। उन्होंने शहर वासियों से फिर कहा कि प्रशासन का सहयोग करें।

Show More
chandrashekhar sakarwar Photographer
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned