मौसम की मार: घर-घर बीमार, बढ़ा वायरल फीवर और डायरिया

मौसम की मार: घर-घर बीमार, बढ़ा वायरल फीवर और डायरिया
Viral fever and diarrhea increased due to rain

Prabha Shankar Giri | Publish: Aug, 15 2019 09:38:55 AM (IST) Chhindwara, Chhindwara, Madhya Pradesh, India

चिकित्सकों ने दूषित पानी से बचने की दी सलाह, खान-पान में रखें ध्यान

छिंदवाड़ा. लगातार बारिश से वायरल फीवर और डायरिया जैसी बीमारियां पैर पसार रहीं हैं। हर दिन बीमार बच्चों को जिला अस्पताल में देखा जा सकता है। चिकित्सकों ने पीडि़तों को दूषित पानी से बचने और उचित खान-पान की सलाह दी है।
जिला अस्पताल में इस समय प्रतिदिन की ओपीडी औसत 800 से 12 सौ मरीज की है। इनमें से 50 फीसदी से अधिक लोग वायरल फीवर और डायरिया से पीडि़त मिलेंगे। इनमें दो से लेकर 15 साल तक के बच्चों की संख्या अधिक मिलेगी। डॉक्टरों के अनुसार बारिश में संक्रामक बीमारियों के वायरस अधिक तेजी से पनपते हैं। इसके चलते सर्दी, जुकाम, वायरल फीवर और डायरिया की बीमारी देखी जा रही है। बारिश के समय ग्रामीण इलाकों में दूषित पानी पीने से पेटदर्द और फिर डायरिया होता है। वायरल फीवर भी एक-दूसरे के माध्यम से फैलता है।
सिविल सर्जन डॉ.सुशील राठी का कहना है कि वायरल फीवर और डायरिया बच्चों में अधिक नजर आ रहा है।
पालकों को शुद्ध साफ पानी और खान-पान का ख्याल रखना चाहिए। तभी बच्चों को संक्रामक बीमारियों से बचाया जा सकता है। बीमारी की दशा में तुरंत चिकित्सकीय परामर्श लेना चाहिए।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned