scriptWater crisis: Villagers forced to drink filtered water from Jhiriya | जल संकट: झिरिया से पानी छानकर पीने को मजबूर ग्रामीण | Patrika News

जल संकट: झिरिया से पानी छानकर पीने को मजबूर ग्रामीण

विकासखंड बिछुआ के ग्रामीण क्षेत्रों में भीषण पेयजल की समस्या है। टेकापार की महिलाएं एक किलोमीटर दूरी से नदी झिरिया से पानी लाने के लिए मजबूर है।

छिंदवाड़ा

Updated: April 23, 2022 07:08:45 pm

छिंदवाड़ा/बिछुआ. विकासखंड बिछुआ के ग्रामीण क्षेत्रों में भीषण पेयजल की समस्या है। यहां के कई गांवों में लोग मूलभूत सेवाओं के लिए भी आज भी तरस रहे हैं। ऐसा ही एक मामला बिछुआ जनपद पंचायत के ग्राम पंचायत आमा कोही के ग्राम टेकापार का है। जहां गर्मी के दिनों में यहां रहवासी शुद्ध पेयजल के लिए तरस रहे हैं। टेकापार की महिलाएं एक किलोमीटर दूरी से नदी झिरिया से पानी लाने के लिए मजबूर है।
टेकापार नदी-नालों की झिरिया का पानी इतना खराब है उसके बावजूद महिलाएं यहां का पानी छानकर उपयोग के लिए ले जा रहीं है। ग्राम पंचायत के द्वारा ग्राम टेकापार में कुएं का निर्माण किया गया था।
जिससे पानी की समस्या निजात मिल सकेगा, लेकिन आज तक इस निर्माण अधूरा है। शासन द्वारा नल जल जीवन योजना चलाई जा रही है। जिससे हर गांव-गांव घर-घर तक नल जल योजना के अंतर्गत नल कनेक्शन का विस्तार किया जा रहा है, लेकिन बिछुआ विकासखंड की कई गांवों में नल जल योजना के अंतर्गत हो रहे नल जल कनेक्शन से भी वंचित है।


img2022043023_1.jpg
परासिया. ग्राम अंबाडा में ग्रीष्मकाल के दौरान जलसंकट गहराने लगा है। ग्राम की आबादी लगभग सात हजार और बीस वार्ड हैं। अधिकांश वार्डो में पानी की सप्लाई का अंतराल बढक़र बीस से पच्चीस दिन हो गया है।
पूर्व में शासन से पानी टैंकर के लिए अतिरिक्त राशि का आबंटन किया जाता था, लेकिन पिछले दो वर्ष से बंद है। वहीं वेकोलि की खदानें संचालित है और बड़ी संख्या में कॉलोनियों में वेकोलि कामगार तथा उनके आश्रित परिवार निवास करते हैं लेकिन वेकोलि ने भी पानी परिवहन बंद कर दिया है जिसके कारण व्यवस्था और अधिक चरमरा गई है। ग्राम में पांच हैंडपंप है, लेकिन उसमे दो हैंडपंप में आयरन की मात्रा अधिक होने से इसका उपयोग पीने के लिए नहीं होता है। वहीं बाकी हैंडपम्पों से कम मात्रा में पानी निकल रहा है। जनपद पंचायत सदस्य अकबर अली कहते हैं कि उन्होंने जनपद परफारमेंस मद से दो लाख रुपए मोटर पंप के लिए स्वीकृत कराए थे, लेकिन ग्राम पंचायत की उदासीनता और लापरवाही के कारण आज तक मोटर पम्प चालू नहीं हो पाया है। इस सम्बंध में उन्होंने 24 नंवबर को अनुविभागीय राजस्व अधिकारी को पत्र लिखकर बताया था कि एक वर्ष पूर्व जनपद द्वारा राशि स्वीकृत की गई थी। 27 मार्च 2022 को ग्रामीणों ने अनुविभागीय राजस्व कार्यालय में धरना प्रदर्शन किया था, जिसके बाद एक सप्ताह में मोटर पम्प चालू करने की बात कही गई थी, लेकिन आज तक पम्प चालू नहीं हुआ है। अब गुरुवार को एसडीएम को लिखे पत्र में जनपद सदस्य अकबर अली ने कहा है कि 30 एचपी मोटर पंप क्रय करने के लिए कई माह पूर्व स्वीकृत दो लाख में एक लाख साठ हजार रुपए ग्राम पंचायत को अंतरित किए जा चुके हैं, लेकिन पंचायत हीलाहवाली कर रही है। पत्र में एक बार फिर आंदोलन की चेतावनी दी गई है।
img20220421a0128.jpg
IMAGE CREDIT: patrika

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

इन बर्थ डेट वालों पर शनि देव की रहती है कृपा दृष्टि, धीरे-धीरे काफी धन कर लेते हैं इकट्ठाLiquor Latest News : पियक्कडों की मौज ! रात एक बजे तक खरीदी जा सकेगी शराबशुक्र देव की कृपा से इन दो राशियों के लोग लाइफ में खूब कमाते हैं पैसा, जीते हैं लग्जीरियस लाइफMorning Tips: सुबह आंख खुलते ही करें ये 5 काम, पूरा दिन गुजरेगा शानदारDelhi Schools: दिल्ली में बदलेगी स्कूल टाइमिंग! जारी हुई नई गाइडलाइनMahindra Scorpio 2022 का लॉन्च से पहले लीक हुआ पूरा डिजाइन और लुक, बाहर से ऐसी दिखती है ये पावरफुल कारबैड कोलेस्‍ट्राॅल और डिमेंशिया को कम करके याददाश्त को बढ़ाता है ये लाल खट्‌टा-मीठा फल, जानिए इसके और भी फायदेAC में लगाइये ये डिवाइस, न के बराबर आएगा बिजली बिल, पूरे महीने होगी भारी बचत

बड़ी खबरें

पटना एयरपोर्ट पर बड़ा हादसा, निर्माण कार्य के दौरान गिरा लोहे का स्ट्रक्चर, दो मजदूरों की मौत, एक की टूटी रीढ़ की हड्डीविश्व प्रसिद्ध धार्मिक स्थल हेमकुंड साहिब और लक्ष्मण मंदिर के खुले कपाट, दो साल बाद लौटी रौनकPetrol-Diesel Prices Today: केंद्र के बाद राज्यों ने घटाए पेट्रोल-डीजल के दाम, जानें कितनी हैं आपके शहर में कीमतेंQuad Summit 2022: प्रधानमंत्री मोदी का जापान दौरा, क्वाड शिखर सम्मेलन में बाइडेन से अहम मुलाकात, जानें और किन मुद्दों पर होगी बातDelhi Suicide Case: 'कमरे में घुसने के बाद लाइटर न जलाएं' दीवार पर लिखकर मां-बेटियों ने दी जान, एक साल पहले कोरोना से हुई थी CA पति की मौतGama Pehlwan के 144वें जन्मदिन पर गूगल ने बनाया डूडल, एक दिन में खाते थे 6 देसी मुर्गे और 10 लीटर दूधभाजपा नेता को किया गिरफ्तार, आशियाना ध्वस्त करने पहुंचा था बुलडोजरसाप्ताहिक समीक्षा: सोने-चांदी में तेजी, 2290 रुपए सस्ती हुई चांदी, जानें गाेल्ड की कीमत
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.