चुनाव खत्म: अब चमकेगी किसानों की किस्मत

बुधवार को सात हजार क्विंटल गेहूं बेचा किसानों ने, 115 में सिर्फ 45 केंद्रों में ही हुई खरीदी

By: prabha shankar

Published: 02 May 2019, 08:00 AM IST

छिंदवाड़ा. समर्थन मूल्य पर गेहूं की खरीदी के काम में अब जोर पकडऩे की उम्मीद लग रही है। बुधवार को तीन चार दिन के लगातार अवकाश के बाद खरीदी का काम हालांकि शुरू हुआ, लेकिन कुल 115 केंद्रों में से सिर्फ 45 केंद्रों में ही खरीदी हुई। बुधवार को 45 केंद्रों में 7134 क्विंटल की खरीदी केंद्रों ने की। ध्यान रहे अब तक एक लाख 60 हजार 281 क्विंटल की खरीदी हो चुकी है। जिले में 115 केंद्रों पर हो रही खरीदी में इस बार 30 से ज्यादा केंद्र गोदामों में ही बनाए गए हैं।
यही कारण है कि परिवहन भी 80 प्रतिशत से ज्यादा होता दिखाई दे रहा है। गौरतलब है कुछ केंद्र तो ऐसे हैं जहां 100 क्विंटल गेहूं भी अब तक खरीदा नहीं जा सका है। ज्यादातर किसान अपना गेहंू मंडियों में ला रहे हैं, जहां उन्हें ज्यादा दाम मिल रहे हैं।
सब्जी मंडी में भी कामकाज सामान्य: गुरैया रोड स्थित सब्जी मंडी में भी बुधवार को ज्यादा भीड़भाड़ नहीं देखी गई। यहां भी कम संख्या में मजदूर देखे गए। गर्मी को देखते हुए आम लोग भी यहां खरीदी करने जल्दी सुबह पहुंच रहे हैं। किसान भी सुबह जल्द आकर अपनी सब्जियां बेचकर घरों को लौट रहे हैं। मई के महीने में सब्जियों की आवक कुछ कम होने के आसार यहां लग रहे हैं।
आज से खुलेगी मंडी
एक मई को मजदूर दिवस के कारण कुसमेली मंडी के श्रमिकों और हम्मालों ने छुट्टी मनाई। उनके अवकाश पर जाने के कारण व्यापारियों ने भी गेहूं नहीं खरीदा। गुरुवार से मंडी में नीलामी फिर से होगी। हर साल मजदूर दिवस पर मंडी समिति की तरफ से विशेष आयोजन किया जाता है और मजदूरों के सम्मान के साथ सामूहिक भोज भी होता है लेकिन इस बार अवकाश और समिति के भी क्रियाशील न होने के कारण आयोजन नहीं हो सका।

prabha shankar
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned