कोरोना के बढ़ते केस पर महिलाएं फिर बनाएंगी मास्क

राज्य शासन से निगम को मिला 21 हजार मास्क का आर्डर, 109 महिलाओं को मिलेगा रोजगार

By: prabha shankar

Published: 27 Jul 2020, 06:10 PM IST

छिंदवाड़ा/ कोरोना के बढ़ते केस को देखते हुए सरकार ने फिर मास्क और सोशल डिस्टेंसिंग पर ध्यान केन्द्रित कर दिया है। इसे देखते हुए नगर निगम को 21 हजार मास्क बनाने का दोबारा ऑर्डर दिया गया है। ये मास्क शहर की 109 महिलाएं मिलकर बनाएंगी।
निगम योजना कार्यालय के मुताबिक मार्च में लागू देशव्यापी लॉकडाउन के समय स्व-सहायता समूहों की महिलाओं को मास्क निर्माण के रोजगार से जोडऩे की पहल की गई थी। उस समय शहर से 109 महिलाओं को रजिस्टर्ड किया गया था। प्रत्येक महिला ने दो सौ मास्क बनाकर दिए थे जिन्हें राज्य शासन से हर मास्क के 11 रुपए के हिसाब से सीधे 22 सौ रुपए खाते में दिए गए थे। इन तैयार मास्क का उपयोग निगम द्वारा शहरी क्षेत्र में किया गया। पिछले एक माह से फिर कोरोना के केस छिंदवाड़ा समेत पूरे प्रदेश में बढ़ गए हैं। इसे देखते हुए फिर राज्य शासन का पत्र निगम कार्यालय पहुंचा। जिसमें पुन: इतने ही मास्क बनाने का ऑर्डर दिया गया है। निगम के राष्ट्रीय आजीविका मिशन के प्रोजेक्ट मैनेजर उमेश पयासी का कहना है कि स्व-सहायता समूह से जुड़ी इन महिलाओं को मास्क के दूसरे ऑर्डर से पुन: रोजगार मिलेगा।

दिल्ली से नहीं मिला पीपीइ किट का सर्टिफिकेट
नगर निगम से जुड़ीं महिलाओं द्वारा स्थानीय स्तर पर कोरोना संक्रमण में डॉक्टर और पैरामेडिकल स्टाफ के लिए 12 सौ पीपीइ किट का निर्माण हैदराबाद से पॉलिएस्टर कपड़ा बुलाकर तैयार किया गया था। इस किट को नगरीय निकायों को सुरक्षा बतौर दे दिया गया है, लेकिन इसके व्यावसायिक उत्पादन के लिए इसका नमूना दिल्ली स्वास्थ्य मंत्रालय भेजा गया है, जहां सुरक्षा मानकों की जांच में खरा उतरने पर इसका सर्टिफिकेट मिलेगा। यह मामला अभी दिल्ली में ही लटका हुआ है।

Show More
prabha shankar
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned