आरटी-पीसीआर लैब में काम बंद...नहीं जारी हुई कोई रिपोर्ट जानें वजह

- समन्वय बनाने पहुंचे नोडल अधिकारी राजेश शाही

By: Dinesh Sahu

Updated: 24 Jul 2020, 03:11 PM IST

छिंदवाड़ा/ छिंदवाड़ा इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेस की आरटी-पीसीआर लैब गुरुवार को कोई भी कोविड-19 टेस्टिंग रिपोर्ट जारी नहीं की गई। क्षमता से अधिक कार्य कराने और कर्मचारियों की कमी के चलते लैब टेक्निशियन और डाटा एंट्री ऑपरेटरों ने काम करने से इनकार कर दिया। साथ ही मामले की सूचना कलेक्टर समेत नोडल अधिकारी राजेश शाही एवं डीन डॉ. जीबी रामटेके को दी।

इधर कर्मचारियों के विवाद को शांत करने तथा आवश्यक सुविधाएं मुहैया करने के नोडल अधिकारी राजेश शाही सिम्स पहुंचे। बताया जाता है कि आरटी-पीसीआर लैब में कर्मचारी पीपीइ किट पहनकर आठ-आठ घंटे करीब 250 कोरोना टेस्टिंग कर रहे है, जो कि क्षमता से अधिक होने से उन्हें मानसिक तनाव बढ़ते जा रहा है। बताया जाता है कि लैब में 27 लैब टेक्निशियन और एक मात्र डाटा एंट्री ऑपरेटर मौजूद है।


आज आ जाएंगे अतिरिक्त कर्मचारी -


कोविड-19 टेस्टिंग लैब का संचालन जारी है। लेकिन विभाग में डाटा एंट्री ऑपरेटर की कमी होने से कुछ समस्या आई है, जिसके लिए दो कर्मचारियों की मांग की गई है। संभवता वे शुक्रवार तक उपस्थित हो जाएंगे।


- डॉ. जीबी रामटेके, डीन

समन्वय बना दिया गया है -


वर्कलोड के तनाव को लेकर समस्या उपजी थी, जिसे चर्चा कर सभी को समझाइश दी गई है। साथ ही बेहतर सुविधाएं और संसाधनों की उपलब्धता का भी आश्वासन दिया गया है।


- राजेश शाही, नोडल अधिकारी सिम्स

COVID-19
Show More
Dinesh Sahu
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned