Yes bank crisis: येस बैंक के खाताधारक सकते में

एटीएम से भी नहीं निकल रहे पैसे

By: sandeep chawrey

Published: 07 Mar 2020, 11:34 AM IST

छिंदवाड़ा. नकदी से संकट से जूझ रही देश के चौथे सबसे बड़े निजी बैंक येस बैंक की जिले में स्थित देढ़ दर्जन शाखाओं के खाताधारक शुक्रवार को पेरशान दिखे। जिले में इस बैंक की डेढ दर्जन शाखाएं हैं। कई खाताधारक स्थानीय बैंक शाखाओं में पहुंचे लेकिन वहां नकदी न होने की बात कह उन्हें वापस कर दिया गया। वे दौड़ते हुए जिला मुख्यालय आए। बैंक के एटीएम में भी दिनभर लोगों की भीड़ जमा हो गई। सत्कार तिराहे स्थित जिला मुख्यालय की शाखा में शाम साढ़े चार बजे सौे से ज्यादा खाताधारक पहुंच गए और अधिकारियों से जानकारी लेते दिखे। इधर बैंक के एटीएम से दोपहर बाद कोई निकासी नहीं होने की बात खाताधारकों ने कही। कुछ को कल आने का कहकर वापस कर दिया गया। छिंदवाड़ा बैंक में पूछताछ करने आए उमरेठ के शेख इश्तेयाक ने बताया कि वे उमरेठ स्थित शाखा पैसे निकालने पहुंचे तो वहां नकदी न होने की बात कर बैंक के कर्मचारियों ने वापस भेज दिया। वे उमरेठ से छिंदवाड़ा आए और यहां अधिकारियों से बात की। इश्तेयाक ने बताया कि एटीएम से भी पैसे नहीं निकले और लोग वापस जाते रहे। बैंक कर्मचारियों ने शनिवार को आने की बात कह उपभोक्ताओं को वापस भिजवा दिया। चांद, चौरई,बीसापुर, उभेगांव क्षेत्र से भी कई खाताधारक शुक्रवार को छिंदवाड़ा पहुंचकर बैंक में पूछताछ करते दिखे। ध्यान रहे आरबीआई ने गत दिवस इसके निदेशक मंडल को भंग कर दिया और नया प्रशासक बिठा दिया है। इस दौरान बैंक के खाताधारकों को महीने में 50 हजार रुपए से ज्यादा राशि न निकालने की सीमा तय कर दी है। विशेष परस्थितियों में इस सीमा में छूट दी गई है। शुक्रवार को जैसे ही लोगों को यह जानकारी लगी खाताधारकों में हडक़ंप मच गया। अधिकारी नहीं दे रहे जवाबनकदी के संकट से जूझ रही बैंक की मौजदा स्थिति पर स्थानीय बैंक अधिकारी भी कुछ नहीं कर पा रहे हैं। उनका कहना है कि हम तो उपर से मिले निर्देशों के अनुसार काम कर रहे हैं। उन्होंने बैंक की जिले की शाखाओं की मौजूदा स्थिति बताने से भी मना कर दिया और मुंबई स्थित मीडिया आफिस के कार्यालय के नंबर पर बात करने कहा। वहां का नंबर डायल किया गया तो किसी ने फोन ही रिसिव नहीं किया।

जिले में ज्यादातर शाखाएं ग्रामीण क्षेत्रों में

ध्यान रहे जिले में येस बैंक की ज्यादातर शाखाएं ग्रामीण क्षेत्रों में हैं। छिंदवाड़ा जिला मुख्यालय में दो शाखाएं और परासिया,पांढुर्ना और सौंसर इन पांच शाखाओं के बाद बाकी बैंक की 13 शाखाएं ग्रामीण इलाकों में हैं। छिंदवाड़ा सत्कार तिराहे और इमलीखेड़ा पर इसकी शाखाएं संचालित हो रही है। इनके अलावा बादगांव, बेरडी, बीसापुर, चांद, चौरई, इकलहरा, खैरी तायगांव, मारुड, न्यूटन, पगारा, पांजरा, उभेगांव और उमरेठ में इस बैंक की शाखाएं संचालित हैं।

sandeep chawrey
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned