मैदान को तरस रहे अंचल के विद्यार्थी

खेल प्रतिभाओं को कैसे मिलेगा मौका

By: sunil lakhera

Published: 06 Jan 2020, 04:46 PM IST

खैरवानी/हनोतिया. जुन्नारदेव विधानसभा में ग्रामीण खिलाडिय़ों के लिए खेल सुविधाओं का विस्तार करने के लिए लाखों रुपए शासन द्वारा दिए जाते हैं किन्तु सदुपयोग नहीं हो पा रहा है।
विधानसभा क्षेत्र में कई स्कूल ऐसे है जहां पर बच्चों के लिए मैदान की सुविधा उपलब्ध ही नहीं है। वहीं कुछ स्कूलों में मैदान हैं तो वहां पर गड्ढे और कचरा ही नजर आता है। ग्राम पंचायत खैरवानी के प्राथमिक एवं मिडिल स्कूल का यही हाल है, यहां पर खेल मैदान के नाम पर काफी भूमि पड़ी है। यह मैदान में न तो खेलने की कोई सुविधा है और न ही बच्चे यहां पर खेल गतिविधियों को संचालित कर सकते हैं। यदि कोई खेल बच्चे खेलते भी है तो वह है गिल्ली-डंडा बस ही खेल सकता है। बच्चों की प्रतिभा निखारने के लिए न तो पंचायत का ध्यान है और न ही जनप्रतिनिधि ध्यान दे रहे हैं। इस क्षेत्र के स्कूल के पास से ही बरसाती नाला बच्चों के लिए खतरा बना हुआ है। यहां पर हल्की बारिश में भी खेल मैदान कीचड़ और दलदल में तब्दील हो जाता है। स्कूल में पढऩे वाले बच्चों के पालकों ने कई बार स्कूल प्रबंधन सहित पंचायत एवं जनप्रतिनिधियों से खेल मैदान का जीर्णोद्धार करने की मांग की है किन्तु इस ओर किसी का भी ध्यान न होने से अब विद्यार्थियों का खेल में सुनहरा भविष्य होने की संभावनाएं कम ही हैं। ग्रामीणों ने जनप्रतिनिधियों से विकास की मांग की है।

sunil lakhera
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned