उर्स के दौरान कव्वाली पर झूम उठे श्रोता

हजरत अल्लामा मौलाना गनी के 13 वा सालाना उर्स

By: arun garhewal

Updated: 04 Apr 2019, 08:08 PM IST

छिंदवाड़ा. परासिया. हजरत अल्लामा मौलाना गनी के 13 वा सालाना उर्स में मंगलवार की देर शाम कव्वाली का शानदार मुकाबला हुआ जिसमें दिल्ली के कव्वाल जीशान फैजान साबरी की प्रसिद्ध फेमस कव्वाली ख्वाजा तेरे नाम के दीवाने हो गए और जबलपुर के कव्वाल हलीम ताज द्वारा प्रस्तुत कव्वाली अली मौला, अली मौला पर दर्शक झूम उठे। इस बार आचार संहिता के कारण कव्वाली का कार्यक्रम बिना साउंड स्पीकर के किया गया और रात दस बजे तक समयावधि निर्धारित होने के कारण कव्वाली दरगाह के सामने पेश की गई। इस अवसर पर सदर जमील खान सहित उर्स कमेटी के सदस्य शामिल रहे।
इधर सदभावना मंच के पदाधिकारियों ने संगठन के गठन का उद्देश्य भी बताया। सभी सदस्य आसपास के हैं और सीनियर सिटीजन हैं जो जनहित कार्यों में हसयोग करेंगे। नगरीय और ग्रामीण क्षेत्र के जनहित से जुड़े महत्वपूर्ण मुद्दों को उठाकर सस्मयाओं का निराकरण कराना और जरूरतमंदों की सहायता करना ही संगठन का मुख्य उद्देश्य है। संरक्षक डॉ विजय श्रीवास्तव ने बताया कि सामाजिक सरोकार और जनसेवा से जुड़े कार्यों के लिए उनका संगठन हमेशा सहयोग करेगा और गंभीर बीमारी या अन्य जरूरतमंदों को प्रदेश सरकार की योजानाओं के लिए मदद भी दिलाएगा। संरक्षक के तौर पर विधायक सुजीत चौधरी, नपाध्यक्ष ओमप्रकाश अग्रवाल, पूनमचन्द शर्मा और डॉ विजय श्रीवास्तव है। इसके अलावा आरडी गुप्ता, अरविन्द राजपूत, रामेश्वर सोनी, प्रदीप तिवारी, एचएस बघेल, रामकुमार सोनी, आर के डेहरिया को पदाधिकारी नियुक्त किया गया है।

arun garhewal
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned