अन्ना प्रथा को लेकर कांग्रेस का हल्ला बोल, कार्यकर्ताओं की पुलिस से झड़प

अन्ना प्रथा व कोल आदिवासियों को अनुसूचित जाति का दर्जा देने की मांग को लेकर रविवार को कांग्रेस ने बड़ा प्रदर्शन करते केंद्र व प्रदेश सरकार के खिलाफ हल्ला बोला।

चित्रकूट. अन्ना प्रथा व कोल आदिवासियों को अनुसूचित जाति का दर्जा देने की मांग को लेकर रविवार को कांग्रेस ने बड़ा प्रदर्शन करते केंद्र व प्रदेश सरकार के खिलाफ हल्ला बोला। बड़ी संख्या में एकत्र कांग्रेसी कार्यकर्ताओं की प्रदर्शन के दौरान पुलिस से झड़प भी हुई। अन्ना प्रथा जैसी नासूर बनती समस्या को लेकर सड़क पर उतरी कांग्रेस ने मोदी व योगी सरकार को घेरते हुए कहा कि सिर्फ बातों में किसान का हितैषी होने का दम्भ भरा जा रहा है जबकि असलियत यह है कि आज भी बुन्देलखण्ड का किसान दुश्वारियों से जूझ रहा है। अन्ना प्रथा उसे तबाह कर रही है। वहीं कोल आदिवासियों को अनुसूचित जनजाति का दर्जा देने की मांग करते हुए भी पार्टी ने भाजपा सरकार को आड़े हांथों लेते हुए जल्द से जल्द उन्हें इस श्रेणी में रखा जाए क्योंकि आज तक कोल आदिवासी उपेक्षा का शिकार हैं।

विभिन्न मुद्दों पर सरकार को घेरा

केंद्र की मोदी व यूपी की योगी सरकार के खिलाफ इस समय आक्रामक तेवर में दिखाई दे रही कांग्रेस ने बुन्देलखण्ड में अन्ना प्रथा बेरोजगारी व कोल आदिवासियों की समस्याओं को लेकर सरकार के खिलाफ हल्ला बोल आंदोलन करते हुए जमकर नारेबाजी की। बड़ी संख्या में प्रदर्शन कर रहे कार्यकर्ताओं ने मोदी व योगी सरकार को घेरते हुए कहा कि अन्ना प्रथा से किसान बर्बाद हो रहा है लेकिन सरकार की बातें सिर्फ हवा हवाई हैं। पार्टी जिलाध्यक्ष पंकज मिश्रा ने कहा कि न तो मोदी और न योगी सरकार अभी तक कोई कारगर उपाय कर पाई है अन्ना प्रथा पर लग़ाम के लिए। गौशालाएं और पशु आश्रय स्थल सिर्फ कागजों पर हैं धरातल पर नहीं। वहीं कोल आदिवासियों को अनुसूचित जनजाति का दर्जा देने की मांग करते हुए कांग्रेस ने भाजपा सरकार पर आरोप लगाया कि सरकार कोल आदिवासियों को अनुसूचित जनजाति का दर्जा देने में पीछे हट रही है न जाने क्यों लेकिन कांग्रेस देश व प्रदेश में लगातार संघर्षरत है आदिवासियों के हक के लिए।

पुलिस से झड़प

प्रदर्शन के दौरान कार्यकर्ताओं की पुलिस से झड़प भी हुई। मिर्जापुर झांसी राष्ट्रीय राजमार्ग पर जाम लगाने के दौरान पुलिसकर्मियों से पार्टी कार्यकर्ताओं की हुई तीखी नोक झोंक के दौरान कार्यकर्ताओं को पुलिस लाइन ले जाया गया जहां कुछ देर बाद कार्यकर्ता वापस चले आए।

Congress
आकांक्षा सिंह
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned