कोरोना से जंग जीत कर लौटे रामभद्राचार्य बोले अब मुझसे....

कोरोना पॉजिटीव पाए जाने पर लखनऊ स्थिति पीजीआई में भर्ती हुए थे.

By: Neeraj Patel

Published: 14 Sep 2020, 02:13 PM IST

चित्रकूट: पीएम मोदी व सीएम योगी के करीबी माने जाने वाले तुलसीपीठाधीश्वर जगद्गुरू रामभद्राचार्य कोरोना से जंग जीतकर अपने आश्रम लौट आए हैं. रामभद्राचार्य ने सीएम योगी की तारीफ में कसीदे पढ़ते हुए अपने इलाज हेतु पीजीआई लखनऊ के चिकित्सकों को धन्यवाद दिया. जगद्गुरु ने लोगों से अपील की कि कोरोना की अभी कोई औषधि नहीं बनी है इसलिए दो गज की दूरी मास्क जरूरी और स्वच्छता का पालन करें. इस बीच उन्होंने अपने अनुयायियों व भक्तों से अपील की कि अब से पुरुषोत्तम मास पर्यंत वे साधना में रहेंगे इसलिए उनसे कोई मिलने का प्रयास न करे. रामभद्राचार्य विगत 22 अगस्त को कोरोना पॉजिटीव पाए जाने पर लखनऊ स्थिति पीजीआई में भर्ती हुए थे. परसों उनकी रिपोर्ट निगेटिव आई जिसके बाद उन्हें अस्पताल से डिस्चार्ज कर दिया गया.


तुलसीपीठाधीश्वर जगद्गुरु रामभद्राचार्य ने कोरोना को लेकर लोगों से सावधानी की अपील की है. कोरोना से जंग जीतकर अपने आश्रम तुलसी पीठ चित्रकूट लौटे जगद्गुरु ने कहा कि प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ बराबर उनका हालचाल लेते रहे जब तक वे इलाज के लिए पीजीआई में भर्ती थे. साथ ही पीजीआई के चिकित्सकों ने भी उनके इलाज देखरेख में कोई कमी नहीं जिससे वे सभी को धन्यवाद देते हैं. रामभद्राचार्य ने कहा कि अब वे अपने अनुष्ठान व साधना हेतु पुरुषोत्तम मास पर्यंत तक किसी से भी मुलाकात नहीं करेंगे. कोई उनसे मिलने का प्रयास न करे. लोग कोरोना को लेकर सावधानी बरतें और ईश्वर का स्मरण करें.

गौरतलब है कि पिछले महीने 22 अगस्त को रूटीन चेकअप के लिए पीजीआई पहुंचे रामभद्राचार्य की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटीव आई थी. जिसके बाद उन्हें भर्ती किया गया था. इस दौरान बीच में मीडिया में उनकी हालत गम्भीर होने की खबरें भी उड़ी थीं जिसपर उन्होंने अस्पताल से ही वीडियो जारी कर ऐसी खबरों का खंडन किया था और कहा था कि वे स्वस्थ हैं चिंता की कोई बात नहीं.

Corona virus COVID-19
Neeraj Patel
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned