कोरोना खौफ: देर रात मुंबई-हावड़ा रूट के इस स्टेशन पर उमड़ी भीड़ जाने पूरा मामला

कोरोना चेकिंग करने में स्वास्थ्य विभाग जीआरपी आरपीएफ व रेलवे को खासी मशक्कत करनी पड़ी.

चित्रकूट: आज रविवार 22 मार्च को देश में जनता खुद ये सिद्ध करेगी कि वो खुद के प्रति कितनी सजग है. पीएम मोदी के जनता कर्फ्यू की अपील के बाद देश को खुद की कसौटी पर खरा उतारने की अग्नि परीक्षा है. कोरोना के फैलते मकड़जाल के तिलिस्म को तोड़ने का हर सम्भव प्रयास हर स्तर पर जारी है. देश के जिन बड़े महानगरों में इस वायरस के संक्रमण ने खौफ पैदा कर दिया है वहां रहकर जीवकोपार्जन करने वाले अपने अपने गांव कस्बों की ओर लौट रहे हैं. बड़ी संख्या में लौट रहे इन परदेसियों की कोरोना चेकिंग करने में स्वास्थ्य विभाग जीआरपी आरपीएफ व रेलवे को खासी मशक्कत करनी पड़ी.

कोरोना ने याद दिलाया अपना देश


कोरोना की काली छाया से पूरी दुनिया भयाक्रांत है. भारत में इस अदृश्य दानव के पैर पसर रहे हैं. कई महानगरों में कोरोना वायरस ने खौफ उतपन्न कर दिया है. दिल्ली महाराष्ट्र राजस्थान जैसे राज्यों में लॉक डाउन की पूरी स्थिति आ गई है. इन महानगरों में बड़े पैमाने पर अन्य राज्यों खासकर यूपी बिहार के लोग कमाने जाते हैं. अब कोरोना ने इन कामगारों की रोजी रोटी पर ग्रहण लगा दिया है. बड़ी संख्या में इन राज्यों के महानगरों से लोग लौट रहे हैं. खासकर महाराष्ट्र से लौटने वालों की संख्या कुछ अधिक ही दिख रही है. कई तो पिछले कई वर्षों से अपने गांव कस्बे से दूर थे जिन्हें कोरोना ने उन्हें उनका देश याद दिला दिया.


स्टेशन पर भीड़ कोरोना चेकिंग में मशक्कत


इस दौरान मुंबई-हावड़ा रूट के महत्वपूर्ण मानिकपुर जंक्शन पर परदेसियों की खासी भीड़ उमड़ रही है. हालांकि 21 मार्च रात 10 बजे से ट्रेनों के पहिए थम गई लेकिन जो ट्रेन मार्ग में थी उससे आने जाने वाले यात्री स्टेशन पर उतरे. मुंबई की तरफ से आने वाली ट्रेनों में से बड़ी संख्या में कामगार अपने गृह जनपद लौट रहे हैं. ऐसे में जंक्शन पर स्वास्थ्य विभाग जीआरपी आरपीएफ व रेलवे की टीम यात्रियों की एक एक कर कोरोना चांज कर रही है. बाकायदा लाइन लगवाकर यात्रियों की जांच की जा रही है. सुरक्षा के भी कड़े इंतजाम इस दृष्टिकोण से किए गए हैं कि कोई यात्री बिना कोरोना चेकिंग भाग न जाए.


प्रशासन की अपील बाहर से आने वालों की सूचना दें


इस बीच प्रशासन ने लोगों से अपील की है कि दिल्ली महाराष्ट्र राजस्थान आदि राज्यों व विदेश से आने वाले लोगों के बारे में जानकारी मिलने पर प्रशासन को सूचित करें. इसी के तहत जनपद के पहाड़ी थाना क्षेत्र अंतर्गत देहरुच माफी गांव में पुणे महाराष्ट्र से आए चार युवकों को गांव वालों ने स्वास्थ्य विभाग की टीम की चेकिंग के बाद ही गांव में घुसने दिया. युवकों में कोरोना संक्रमण नहीं पाया गया.

आकांक्षा सिंह
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned