कड़ी मशक्कत के बाद काबू में आया दस्यु ददुआ का दुलारा हांथी

ददुआ के इस हांथी का नाम जय सिंह है जो दूसरी बार बेकाबू हुआ.

चित्रकूट: दस्यु ददुआ का दुलारा हांथी बेकाबू हो गया जिसकी वजह से आस पास के इलाकों में दहशत की स्थिति उत्पन्न हो गई. कड़ी मशक्कत के बाद हांथी पर काबू पाया जा सका. ददुआ के इस हांथी का नाम जय सिंह है जो दूसरी बार बेकाबू हुआ. इससे पहले भी वह इसी साल जनवरी में भड़क गया था. उस दौरान भी वन विभाग व महावतों को काफी पापड़ बेलने पड़े थे हांथी को काबू करने में. इस बार भी महावत ने ही हांथी को नियंत्रित किया. हालांकि वन विभाग भी हलकान रहा. ददुआ के ख़ात्मे के बाद वर्तमान समय में हांथी की देखभाल ददुआ पुत्र पूर्व सपा विधायक वीर सिंह पटेल के जिम्मे है. वन विभाग अब हांथी पालक पूर्व विधायक को नोटिस देने के मूड में है. जय सिंह के बेकाबू होने के बाद दहशत के चलते ग्रामीण घरों में दुबक गए. सन 2005 में हांथी जय सिंह को दस्यु ददुआ ने बिहार से खरीदा था.


कुख्यात डकैत ददुआ का हांथी जय सिंह एक बार फिर बेकाबू होने की वजह से चर्चा का विषय बन गया. जानकारी के मुताबिक मुख्यालय से लगभग 15 किलोमीटर दूर भौंरी गांव जो वीर सिंह पटेल के गांव देवकली से कुछ ही दूर स्थित है के पास हांथी बेकाबू हो गया. महावत उसे घुमाने के लिए निकला था. उस दौरान कुछ ग्रामीण हांथी को चारा आदि खिला रहे थे कि इसी दौरान गजानन को क्रोध आ गया और उसने महावत को जमीन पर फेंक दिया. इसके बाद हांथी जय सिंह ने उत्पात मचाते हुए इलाके के कुछ यात्री शेड व पेड़ आदि को नुकसान पहुंचाते हुए गांव की तरफ भागा. हांथी के उग्र रूप को देख ग्रामीणों की घिग्घी बंध गई. लोग घरों में दुबक गए.

हांथी के बेकाबू होने की सूचना पर पहुंची वन विभाग की टीम ने उसे ट्रेस करने का प्रयास किया. हांथी के इलाके में स्थित वाल्मीकि नदी की ओर जाने की लोकेशन मिली. देर रात महावत राजू ने हांथी जय सिंह को किसी तरह काबू कर लिया. प्रभागीय वनाधिकारी कैलाश प्रकाश के मुताबिक हांथी के उत्पात से कोई बड़ा नुकसान नहीं हुआ है. उसके इलाज की व्यवस्था की जाएगी. डीएफओ ने बताया कि पूर्व विधायक को नोटिस दी जाएगी उच्चाधिकारीयों को अवगत कराते हुए. वहीं पूर्व विधायक वीर सिंह पटेल का कहना है कि उनके पास हांथी से सम्बंधित सभी कागजात हैं. यदि उन्हें नोटिस मिलती है तो वे उसका जवाब देंगे.

आकांक्षा सिंह
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned